यूपी में भी लागू हो सकता है NRC, सीएम योगी ने दिए संकेत

असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर यानी एनआरसी के लागू होने के बाद अब अगला नम्बर यूपी का हो सकता है। दरअसल, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एनआरसी को लेकर आज एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो यूपी में भी इसे लागू किया जाएगा।

सीएम योगी ने की असम में एनआरसी लागू होने की प्रशंसा

बता दें कि सीएम योगी ने आज असम में एनआरसी प्रक्रिया लागू होने की प्रशंसा की और इसके लिए पीएम मोदी व गृह मंत्री अमित शाह को बधाई दी। वहीं इस दौरान यूपी में इसे लागू करने के संकेत दिए।

उन्‍होंने कहा कि असम में जिस तरह से एनआरसी को लागू किया गया है, वह सीखने वाला है। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि असम एनआरसी से एक अनुभव लेते हुए हम भी यूपी में इसकी शुरुआत कर सकते हैं। यह भारत की सुरक्षा के लिहाज से बेहद ही महत्वपूर्ण हैं।

ये भी पढ़ें: ‘Howdy Modi’ कार्यक्रम में PM मोदी संग राष्ट्रपति ट्रंप की होगी जुगलबंदी

क्या है एनआरसी :

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह प्रक्रिया राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण थी और अवैध आव्रजन के कारण गरीबों की पीड़ा को समाप्त कर देगा। पिछले महीने, असम सरकार ने राज्य में अंतिम एनआरसी सूची जारी की, जिससे 19 लाख से अधिक लोग बाहर हो गए। असम से अवैध रूप से बसने वालों को बाहर निकालने के उद्देश्य से बड़े पैमाने पर अभियान चलाया गया था। वहीं हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी कानूनी विकल्प तलाश रहे हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)