बनारस में बेखौफ बदमाशों ने पुलिस को दी चुनौती, सरेराह चाय विक्रेता को मारी गोली

0 341

शहर की कानून व्यवस्था को एक बार फिर बदमाशों ने चुनौती दी। बेखौफ बदमाशों ने कैंट थाना क्षेत्र स्थित नदेसर इलाके में सरेराह चाय विक्रेता को गोली मार दी। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश आराम से फरार हो गए।

हैरानी इस बात की है कि जिस जगह वारदात को अंजाम दिया, उससे कुछ दूरी पर ही पुलिस चौकी है। इसके अलावा रोड के दोनों छोर पर पुलिस की नाकेबंदी रहती है। घटना के बाद से इलाके में दहशत का माहौल है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

नजदीकियों ने मारी चाय विक्रेता को गोली-

varanasi crime

रविवार की दोपहर अशोक गुप्ता नामक चाय विक्रेता अपनी दुकान पर मौजूद थे। इसी दौरान दो लोग दुकान पर पहुंचे। दोनों पुराने परिचित थे। बताया जाता है कि किसी बात को लेकर अशोक और दुकान पर मौजूद परिचितों में विवाद हुआ। कुछ देर में ही दोनों ने अशोक पर फायरिंग शुरु कर दी।

आनन-फानन में लोग चाय विक्रेता को कबीरचौरा अस्पताल लेकर गए, जहां अशोक की हालत गंभीर देखते हुए उसे सिंह मेडिकल में रेफर कर दिया गया। मौके पर पहुंचे एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि नदेसर में सरस्वती पूजा वाली गली के पास चाय विक्रेता को दो लोगों ने गोली मारी है।

चाय विक्रेता की हालत नाजुक-

varanasi crime

चाय विक्रेता अशोक के कंधे में गोली लगी है। अशोक की हालत स्थिर है, जिन दो लोगों ने अशोक को गोली मारी है वह इनके परिचित ही हैं। एसएसपी ने बताया कि उनके साथ आशोक का उठना बैठना रहा है। गोली मारने के पीछे का कारण अभी पता किया जा रहा है। टीम बनाकर आरोपियों की गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है।

घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है। प्रदीप के बेटे शिवम गुप्ता ने बताया कि दुकान पर पिताजी के परिचित के कुछ लोग आये हुए थें, जिनसे बात विवाद में पिता को गोली मार दी।

varanasi crime

यह भी पढ़ें: जमीन विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर हुई गोलीबारी, पिता-पुत्र सहित तीन लोगों की मौत

यह भी पढ़ें: प्रेम प्रसंग में कांस्टेबल ने महिला सिपाही को गोली से उड़ाया, फिर खुद को भी गोली मारी

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More