ओपी राजभर ने फिल्म सिटी प्रस्ताव को बताया शिगूफा, बोले-बेरोजगारों का नहीं होगा भला !

0 87

वाराणसी। पूर्व कैबिनेट मंत्री और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) ने अपने तीखे अंदाज में योगी और मोदी सरकार पर जमकर हमला किया। ओमप्रकाश राजभर ने उत्तर प्रदेश में फिल्म सिटी बनाने के फैसले पर सवाल खड़े किये। उन्होंने कहा की सरकार के इस फैसले को युवाओं को बहकाने वाला बताया। फिल्मी सिटी बनाने से क्या होगा ? यदि कुछ करना है तो बेरोजगारों को रोजगार दें।

सुशांत और कंगना प्रकरण को बताया प्रायोजित

बॉलीवुड फिल्म स्टार सुशांत सिंह राजपूत और कंगना प्रकरण को सुभसपा सुप्रीमो ने पूरी तरह प्रायोजित बताया। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी और गिरती अर्थव्यवस्था से देश का ध्यान भटकाने के लिये बीजेपी इन मुद्दों को हवा दे रही है। सरकार बनने से पहले बीजेपी ने भारत को सोने की चिड़िया बनाने की बात कही थी। लोगों को लगा कि भारत सही में सोने की चिड़िया बन जाएगी तो भाजपा की सरकार बन गई। फिर भारत को विश्व गुरु बनाने की बात कह, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अब भारत को आत्मनिर्भर बनाने की बात कह रहे हैं। उन्होने कहा कि सुशांत की मौत से बेरोजगार को क्या मतलब ? किसानों का क्या लेना-देना ?

बिगड़ती कानून व्यवस्था पर उठाये सवाल

उत्तर प्रदेश में बढ़ते अपराध को लेकर ओमप्रकाश राजभर ने योगी सरकार पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि जब योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री की शपथ ली थी तो प्रदेश को गुंडा मुक्त बनाने की बात कही थी। लेकिन लगता है कि गुंडा मुक्त नहीं बल्कि गुंडा युक्त प्रदेश बन चुका है। जगह-जगह भ्रष्टाचार हो रहे हैं। लूट हो रही। हत्या हुई लेकिन इस पर अंकुश लगा पाने में योगी सरकार पूरी तरह से असफल है।

यह भी पढ़ें: कृषि बिलों के विरोध में पंजाब और हरियाणा में किसानों का प्रदर्शन

यह भी पढ़ें: कृषि विधेयकों के खिलाफ प्रदर्शनों के चलते दिल्ली की सीमाओं पर बढ़ी सुरक्षा

यह भी पढ़ें: मध्यप्रदेश में कांग्रेस की दूसरी सूची के लिए मंथन जारी

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)
Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More