50 साल पहले जब चांद की सतह पर पड़ा इंसान का पहला कदम

इतिहास के पन्नों में 20 जुलाई की तारीख एक ऐसी घटना के साथ दर्ज है जिसने चांद को कवियों की कल्पनाओं और रूमानियत के नफीस एहसास से निकालकर हकीकत की पथरीली जमीन पर उतार दिया।

दरअसल वह 20 जुलाई का ही दिन था जब नील आर्मस्ट्रांग के रूप में किसी इंसान ने पहली बार चंद्रमा की सतह पर कदम रखा। भारत में चंद्रयान-2 को अंतरिक्ष में भेजने की तैयारियों के बीच इस अभियान के 50 बरस पूरे होने का जश्न मनाया जा रहा है।

16 जुलाई को अमेरिका के फ्लोरिडा प्रांत में स्थित जॉन एफ कैनेडी अंतरिक्ष केंद्र से उड़ा नासा का अंतरिक्ष यान अपोलो 11 चार दिन का सफर पूरा करके 20 जुलाई 1969 को इंसान को धरती के प्राकृतिक उपग्रह चांद पर लेकर पहुंचा। यह यान 21 घंटे 31 मिनट तक चंद्रमा की सतह पर रहा।

गूगल ने बनाया खास डूडल-

इस दिन को गूगल ने खास डूडल बनकर सेलिब्रेट किया है। गूगल ने अपना खास डूडल मिशन अपोलो 11 को ही समर्पित किया है।

गूगल ने अपने डूडल में नील आर्मस्ट्रांग को चांद पर कदम रखते हुए दिखाया है जिसे क्लीक करने पर एक वीडियो शुरू होता है जो उस पूरे सफर को दर्शाता है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ की रॉकेट विमेन रितु श्रीवास्तव हैं चंद्रयान-2 की मिशन डायरेक्टर

यह भी पढ़ें: चांदनी सिंह के आइटम नंबर की धूम, मिले 4 मिलियन व्यूज

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)