भारत की वो ‘पॉलिटिकल’ लव स्टोरी जो प्यार करने वालों के लिए बन गई मिसाल

0 922

14 फरवरी वैलेंटाइन-डे प्यार करने वालों के लिए किसी उत्सव से कम नहीं है। यह दिन हर लव कपल के लिए बेहद खास है। इस खास मौके पर हम आपको ऐसे राजनीतिक जोड़ियों की प्रेम कहानी बताने जा रहे है जिनका प्यार दुनिया के लिए मिसाल बन गया। तमाम कठिनाइयों के बावजूद इन जोड़ों ने अपनी मोहब्बत को कुर्बान नहीं होने दिया।

इंदिरा गांधी और फिरोज गांधी-

feroze-indira

इंदिरा गांधी और फिरोज गांधी की मुलाकात 1930 में हुई थी। आजादी की लड़ाई में इंदिरा की मां कमला नेहरू एक कॉलेज के सामने धरना देने के दौरान बेहोश हो गई थीं। उस वक्त फिरोज ने उनकी खूब देखरेख की थी।

अक्सर ही फिरोज कमला नेहरू का हालचाल जानने के लिए फिरोज अक्सर उनके घर जाते थे। इसी दौरान उनके और इंदिरा गांधी के बीच नजदीकियां बढ़ीं। फिरोज जब इलाहाबाद में रहने लगे उस दौरान वो आनंद भवन जाते रहते थे।

जवाहर लाल नेहरू इस शादी के खिलाफ थे। हालांकि महात्मा गांधी के हस्तक्षेप के बाद 1942 में दोनों की शादी हुई। फिरोज को बापू ने अपना सरनेम भी दिया। भारत छोड़ो आंदोलन के दौरान इंदिरा और फिरोज साथ में जेल भी गए।

राजीव गांधी और सोनिया गांधी-

rajiv sonia

राजीव गांधी और सोनिया लवस्टोरी को ‘लव एट फर्स्ट साइट’ कहा जाए तो गलत नहीं होगा। सोनिया पढ़ाई के साथ ग्रीक रेस्टोरेंट में पार्ट टाइम जॉब भी करती थीं। इसी रेस्टोरेंट में एक बार राजीव आए।

दोनों की नजरे मिलीं और प्यार हो गया। सोनिया ने अपनी फैमिली को खत लिखकर बताया कि वो एक भारतीय लड़के से प्यार करती हैं। राजीव का प्यार ही उन्हें भारत लेकर आया और वो यहीं की होकर रह गईं। दोनों ने 1968 में शादी की।

प्रियंका गांधी और रॉबर्ट वाड्रा-

priyanka_gandhi_love

देश के सबसे बड़े सियासी घराने की बेटी प्रियंका गांधी औ रॉबर्ट वाड्रा की लव स्टोरी भी बेहद दिलचस्प है। रॉबर्ट वाड्रा और प्रियंका एक ही स्कूल में पढ़ते थे। दोनों की मुलाकात रॉबर्ट वाड्रा की बहन मिशेल वाड्रा के जरिए हुई।

तब से ही दोनों एक-दूसरे के अच्छे दोस्त बन गए थे। जब प्रियंका-रॉबर्ट ने शादी का फैसला कर लिया तो दोनों अपने परिवार वालों के पास पहुंचे। कहा जाता है कि जब रॉबर्ट ने प्रियंका से शादी का फैसला किया था तब रॉबर्ट के पिता इससे खुश नहीं थे।

हालांकि बाद में वो शादी के लिए राजी हो गए और रॉबर्ट-प्रियंका 18 फरवरी 1997 को शादी के बंधन में बंध गए।

अखिलेश यादव और डिंपल यादव-

akhilesh-dimple

25 साल के अखिलेश यादव ऑस्ट्रेलिया से पढ़ाई करके लौटे ही थे कि उनकी मुलाकात 21 साल डिंपल से हुई। इस दौरान ही दोनों एक दूसरे को दिल दे बैठे। हालांकि अखिलेश के पिता मुलायम सिंह को ये रिश्ता मंजूर नहीं था, लेकिन अखिलेश अपनी जिद पर अड़े रहे।

अखिलेश ने अपने पिता को मनाया। कहते हैं अमर सिंह ने मुलायम सिंह को मनाने में अहम भूमिका निभाई थी। दोनों के बीच रोमांस चला और फिर नवंबर 1999 में अखिलेश और डिंपल की शादी हो गई।

यह भी पढ़ें: सचिन पायलट की लव स्टोरी : फारुख अब्दुल्ला की बेटी से किया इश्क, फिर बगावत कर रचाई शादी

यह भी पढ़ें: महज 13 साल की छोटी उम्र में रॉबर्ट वाड्रा को दिल दे बैठीं थी प्रियंका गांधी, बेहद दिलचस्प है दोनों की लव स्टोरी

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More