हैदराबाद: डॉक्टर से रेप के आरोपियों को डिनर में मिली मटन करी

0 18

हैदराबाद गैंगरेप मामले के आरोपियों को हैदराबाद के पास चेरापल्ली की हाई सिक्योरिटी जेल में रखा गया है।
चारों आरोपियों को जेल में लंच में चावल-दाल और डिनर में मटन करी दिया गया है।
जेल मैन्यूअल के तहत ही उन्हें ये खाना परोसा गया।
बता दें कि हैदराबाद की महिला डॉक्टर के साथ 4 लोगों ने रेप किया था और फिर मर्डर कर दिया था।
मर्डर के बाद आरोपियों ने उनकी बॉडी भी जला दी थी।

निर्मम हत्या से देशभर में उबाल

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर की रेप के बाद निर्मम हत्या से देशभर में उबाल है।
सोमवार को इस मामले की गूंज संसद में भी सुनाई दी।
दोनों सदनों में सभी दलों के सदस्य इस जघन्य कांड पर बेहद आक्रोशित नजर आए।
सांसदों ने दोषियों को जल्द से जल्द फांसी के लिए कानून को और कड़ा करने की वकालत की।

बलात्कारियों को भीड़ के हवाले कर डालने का सुझाव

राज्यसभा में तो समाजवादी पार्टी की सांसद और बॉलिवुड ऐक्ट्रेस जया बच्चन तो इस घटना से इस कदर आक्रोशित थीं कि उन्होंने बलात्कारियों को भीड़ के हवाले कर डालने का सुझाव दे डाला।
राज्यसभा के सभापति जया के इस सुझाव से थोड़ा हैरान नजर आए।
वहीं, एआईएडीएमके की सांसद विजिला सत्यानंद चर्चा के दौरान भावुक हो गईं।
उन्होंने अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुए कहा कि देश बेटियों के लिए सुरक्षित नहीं रहा।

फांसी दिलाने के लिए कानून को और कड़ा करने के लिए तैयार

उधर, लोकसभा में सदन के उपनेता और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि सरकार दोषियों को फांसी दिलाने के लिए कानून को और कड़ा करने के लिए तैयार है।
दराबाद (Hyderabad) में वेटरनिटी डॉक्टर के साथ हुई हैवानियत और मर्डर को लेकर जहां देशव्यापी गुस्सा है तो वहीं दूसरी तरफ इसकी गूंज सोमवार को संसद के शीतकालान सत्र (Winter Session of Parliament) के दौरान राज्यसभा में सुनाई पड़ी।

अपराध के खिलाफ एकजुट होकर खड़े होने की जरूरत

कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने हैदराबाद में वेटरनिटी डॉक्टर से हुई हैवानियत को लेकर कहा कि कोई भी सरकार अपने राज्य में इस तरह की घटना नहीं चाहेगी।
उन्होंने कहा कि यह समस्या सिर्फ कानून बनाकर खत्म नहीं होगा।
इन चीजों को खत्म करने के लिए हम सभी को ऐसी अपराध के खिलाफ एकजुट होकर खड़े होने की जरूरत है।

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More