बनारस में बदमाशों ने दी पुलिस को चुनौती, पत्रकार की गोली मारकर हत्या

बेखौफ़ बदमाशों ने एक बार फिर से कहर बरपाया है. एक बार निशाना बने है वाराणसी के पत्रकार एनडी तिवारी.

0 363

बेखौफ़ बदमाशों ने एक बार फिर से कहर बरपाया है. एक बार निशाना बने है वाराणसी के पत्रकार (journalist) एनडी तिवारी. सोमवार की रात अज्ञात बदमाशों ने रोहनिया इलाके में गोली मारकर उनकी हत्या कर दी. एनडी तिवारी को कुल 5 गोलियां मारी गई थी. हालत बिगड़ने पर उन्हें बीएचयू स्थित ट्रामा सेंटर लाया गया जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई.

जमीन के धंधे से जुड़े थे एनडी तिवारी

एनडी तिवारी रोहनिया इलाके में लंबे समय से पत्रकारिता कर रहे थे. इस दौरान रियल स्टेट के धंधे में भी उन्होंने हाथ आजमाया था. जिसकी वजह से कुछ लोगों से उनकी रंजिश चल रही थी. बताया जा रहा है कि पिछले कुछ महीनों से वह काफी परेशान चल रहे थे. उन्हें लगातार धमकियां भी मिल रही थी. इसी बीच सोमवार की रात अज्ञात बदमाशों ने उन्हें उस वक्त गोली मार दी, जब वह शूल टंकेश्वर मंदिर से दर्शन कर वापस लौट रहे थे.गोली मरने के बाद बदमाश मिर्जापुर की ओर भाग निकले.घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया.

यह भी पढ़ें- बिना मास्क पहने लोगों की उतारी आरती, बरसाये फूल

शोक में डूबा पत्रकार जगत

वारदात को किन लोगों ने अंजाम दिया है यह तक स्पष्ट नहीं हो पाया है. बताया जा रहा है कि बदमाशों ने उन्हें 5 गोलियां मारी. ट्रामा सेंटर में ट्रामा सेंटर में जैसे ही उन्हें लाया गया भीड़ लग गई. मौके पर आईजी एस के भगत समेत अधिकारी भी पहुंच गए और परिजनों से उन्होंने बात की. journalist एनडी तिवारी की दो बेटियां और एक बेटा है.इस घटना के बाद बनारस की की पत्रकारिता जगत में शोक की लहर छा गई. एक के बाद एक जिस तरीके से पूर्वांचल में पत्रकारों (journalist) को निशाना बनाया जा रहा है उससे
लोगों में गुस्सा है.

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More