दिल्ली चुनाव परिणाम पर बोले अमित शाह, गलत बयानबाजी से पार्टी को हुआ नुकसान

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि दिल्ली चुनाव परिणाम नागरिकता संशोधन अधिनियम और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर पर जनादेश नहीं है।

एक कार्यक्रम में अमित शाह ने कहा कि चुनाव प्रचार अभियानों के दौरान विवादास्पद बयानबाज़ी नहीं की जानी चाहिए थी और भारतीय जनता पार्टी ने ऐसी टिप्पणियों से अपने को दूर रखा। उन्होंने कहा कि भाजपा केवल परिणामों के लिए चुनाव नहीं लड़ती।

सिर्फ जय-पराजय के लिए हम नहीं लड़ते और जहां तक परिणामों का सवाल है, मैं बिल्‍कुल विनम्रता से स्‍वीकार करता हूं कि हम चुनाव हारे हैं और एक जिम्‍मेदार विपक्ष के नाते दिल्‍ली में बैठकर बड़े स्‍पीरिट से ये सरकार ढंग से चले, इसकी चिंता करेंगे।

गृहमंत्री ने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम में मुसलमानों की नागरिकता छीनने का प्रावधान नहीं है। उन्होंने कहा कि इसके प्रावधानों पर बहस होनी चाहिए, लेकिन विपक्ष इसके लिए तैयार नहीं है।

अमित शाह ने कहा कि शाहीनबाग में विरोध प्रदर्शन लोकतांत्रिक नहीं है। उन्होंने कहा कि सभी को शांतिपूर्ण विरोध करने का अधिकार है, लेकिन हिंसा उचित नहीं है।

यह भी पढ़ें: Delhi Election Results 2020 : BJP ने स्वीकार की हार, लगे पोस्टर!

यह भी पढ़ें: केवल दलितों के ही नहीं, पिछड़ों के राम : कल्याण सिंह

 

 

 

 

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)