Modi government

रक्षा मंत्रालय ने किया खुलासा, सेना के जवान के अपहरण की खबर झूठी

रक्षा मंत्रालय ने जम्मू और कश्मीर के बडगाम में सेना के एक जवान के अपहरण की खबर को गलत बताया है। मंत्रालय ने अपने जारी ब्यान में जानकारी दी कि यह खबर गलत है और जवान पूरी तरह सुरक्षित है। बता देंं कि इससे पहले कहा जा रहा था कि आतंकियों ने जैकलाई (जम्मू-कश्मीर लाइट इंफैंट्री) के जवान मोहम्मद यासीन भट को काजीपोरा चादुरा स्थित उनके घर से अगवा कर लिया था। 

जवान के अगवा होने की उठी अफवाहें:

जम्मू और कश्मीर के बडगाम में सेना के एक जवान के अपहरण की खबर झूठी निकली है। रक्षा मंत्रालय की तरफ से जारी बयान में कहा गया कि सेना के जवान (मोहम्मद यासीन भट) को आतंकियों ने अगवा नहीं किया, ये खबर गलत है। वह पूरी तरह से सुरक्षित हैं और मीडिया में जो खबरें चल रही हैं, वह भी गलत है। इतना ही नहीं रक्षा मंत्रालय ने ऐसी सभी अटकलबाजियों से दूर रहने को कहा है।

छुट्टी मनाने घर आया था जवान:

जानकारी के अनुसार यासीन 26 फरवरी को एक महीने की छुट्टी पर घर आया था। पुलवामा आतंकी हमले के बाद ऐसे समय में जवान के अपहरण की खबर तब आई, जब सीमा पर हालात तनावपूर्ण हैं। माहौल को देखते हुए जम्मू कश्मीर को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

इससे पहले भी जवान को अगवा कर की गयी हत्या:

गौरतलब है इससे पहले साल 2017 मई में ऐसी ही खतना सामने आई थी, जिसमें लश्कर-ए-तैयबा और हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकियों ने अखनूर से एक जवान को अगवा कर उनकी हत्या कर दी थी। वह छुट्टियां मनाने घर आए थे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)