मृत हेड कांस्टेबल कागज में अब भी जिंदा, पुलिस महकमे ने तबादला भी कर दिया

0 586

पुलिस महकमे की भी कार्यप्रणाली हैरान करने वाली है। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के मद्देनजर जिला पुलिस प्रशासन को और चुस्त-दुरुस्त करने की कवायद तेज है।

इसके तहत 26 थानों पर लंबे समय से तैनात 202 मुख्य आरक्षियों को इधर से उधर किया गया। इनमें एक ऐसे मुख्य आरक्षी का भी नाम शामिल है जिसकी सड़क हादसे में बीते माह मौत हो चुकी है।

क्या है पूरा मामला?

मामला जौनपुर का है। जनपदीय पुलिस स्थापना समिति के सदस्यों के साथ विचार-विमर्श के बाद एसपी राज करन नय्यर ने 26 थानों पर लंबे समय से तैनात 202 मुख्य आरक्षियों व महिला मुख्य आरक्षियों की दूसरे थानों पर तैनाती का फरमान जारी किया।

इस सूची में 109 नंबर पर बृजेश कुमार का नाम है। जिनका तबादला गौराबादशाहपुर थाने से बदलापुर थाने पर किया जाना दर्शाया गया है।

इस तरह हुई थी मौत-

बृजेश कुमार करीब डेढ़ महीने पहले बाइक में पेट्रोल भराकर लौटते समय जिवली के पास ट्रक के धक्के से गंभीर रूप से घायल हो गए थे। इलाज के दौरान बीएचयू ट्रामा सेंटर में उनकी मौत हो गई थी।

महकमे की यह लापरवाही चर्चा का विषय बन गई है।

यह भी पढ़ें: पुलिसकर्मी बना हैवान ! : मां-बाप को कुल्हाड़ी से काटकर जलाया, फिर खुद को दी दर्दनाक सजा

यह भी पढ़ें: यूपी: आरोपी को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला, तीन पुलिसकर्मी घायल, दरोगा का फटा सिर

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।) 

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More