chaubey

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे

ये क्या कह गए मंत्री जी…राहुल को बताया ‘नाली का कीड़ा’

हमेशा से विवादित बयान देकर सुर्खियां बटोरने वाले भाजपा के केंद्रीय मंत्री एक बार फिर चर्चा में आ गए है। वे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोल रहे थे अचानक उनकी जुबान फिसली और उन्होंने राहुल को नाली का कीड़ा कह डाला।

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने एक बार फिर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को लेकर विवादास्पद  बयान दिया है। बिहार के सासाराम में पत्रकारों से बातचीत करते हुए अश्विनी चौबे ने राहुल गांधी को मेंटल स्किजोफ्रेनिया बीमारी का शिकार और नाली का कीड़ा बताया।

राहुल गांधी को लेकर स्किजोफ्रेनिया बीमारी का विश्लेषण करते हुए अश्विनी चौबे ने कहा कि यह ऐसी बीमारी है, जिसमें व्यक्ति दूसरे को पागल समझता है, लेकिन खुद वह क्या है उसे नहीं समझ में आता।

राहुल गांधी प्रधानमंत्री मोदी को झूठा कहते हैं…

राहुल गांधी पर तंज कसते हुए अश्वनी चौबे ने कहा कि वह अपने आपको विद्वान, गुणवान, ज्ञानवान और चरित्रवान समझते हैं। कांग्रेस की ओर से केंद्र सरकार पर राफेल विमान घोटाले के आरोप लगाए जाने के मामले का जिक्र करते हुए सांसद ने कहा कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री मोदी को झूठा कहते हैं जो काफी निंदनीय है।

Also Read : अगर आप भी हैं सिंगल तो यहां किराए पर मिल रहा है ‘बॉयफ्रेंड’

केद्रीय मंत्री ने ये भी कहा कि राफेल विमान डील को लेकर राहुल गांधी प्रधानमंत्री पर कीचड़ फेंक रहे हैं और उनके खिलाफ दुष्प्रचार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी का आकार गगन के जैसा है जबकि, राहुल गांधी का नाली के कीड़े जैसा।

खामियाजा उन्हें जीवनभर जेल में रहकर भुगतना पड़ेगा

वहीं, दूसरी तरफ चौबे ने आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार को लेकर भी जमकर निशाना साधते हुए कहा कि जिस तरीके से लालू परिवार ने पशुओं का चारा खाया और गरीबों का पैसा लूटा। उसका खामियाजा उन्हें जीवनभर जेल में रहकर भुगतना पड़ेगा।

राष्ट्रीय स्तर पर बन रहा महागठबंधन दरअसल एक ठगबंधन है

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि कांग्रेस और आरजेडी भ्रष्टाचार की जननी है और बिहार में यह गठबंधन या फिर राष्ट्रीय स्तर पर बन रहा महागठबंधन दरअसल एक ठगबंधन है। जिससे देश की जनता 2019 लोकसभा चुनाव में पूरी तरीके से नकार देगी। साभार आजतक

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)