कौन है अर्नब गोस्वामी जिन्होंने सुशांत मामले पर बनाई है बाज की नजर !

0 2,270

फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस केस की जांच में सीबीआई जुटी हुई है।

टीवी न्यूज चैनलों द्वारा इस मामले में हर दिन कोई न कोई खुलासा किया जा रहा है। लेकिन जिस शख्स ने इस पूरे मामले पर अपनी चीते जैसी नजर जमाई हुई है वो है देश के तेजतर्रार पत्रकार अर्नब गोस्वामी।

जिस अंदाज में वरिष्ठ टीवी पत्रकार अर्नब गोस्वामी ने इस मुद्दे को उठाया है वो काबिल-ए-तारीफ है। यहां तक कि सुशांत की बड़ी बहन श्वेता सिंह कीर्ति सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर कर पत्रकार अर्नब गोस्वामी को असली हीरो बता चुकी हैं।

sushant

अर्नब गोस्वामी सुशांत सिंह राजपूत मामले में बहुत एक्टिव हैं। बेहद जोशीले अंदाज में वह सुशांत पर डिबेट शो करते देखे जा रहे हैं। उनकी टीम लगातार इस मामले में नए-नए खुलासे कर रही है।

ऐसे में हर कोई जानना चाहता है कि आखिर अर्नब गोस्वामी कौन है और कैसा है उनका सफर। तो हम आपको बता दें कि अर्नब गोस्वामी इंडियन इलेक्ट्रॉनिक मीडिया का जाना-माना चेहरा हैं।

ऐसा रहा करियर-

Arnab-Goswami-1

अर्नब गोस्वामी ने अपनी स्नातक स्तर की पढाई समाज शास्त्र में दिल्ली यूनिवर्सिटी के हिंदू महाविद्यालय से की। उन्होंने अपनी मास्टर्स डिग्री ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से की जहां पर वे एक फेलिक्स विद्वान रह चुके हैं।

इन्होंने अपने करियर की शुरुआत द टेलीग्राफ (कोलकाता) से की जहां उन्होनें एक साल समाचार पत्र के संपादक के रूप में काम किया।

बाद में वो NDTV से भी जुड़े। कुछ साल वहां काम किया फिर वहां की नौकरी उनको रास नही आई, और उन्होंने NDTV का दामन छोड़ दिया।

इसके बाद वे टाइम्स नेटवर्क से जुड़े और टाइम्स नाऊ चैनल पर काम किया, देखते देखते यह चैनल अंग्रेजी का नंबर एक चैनल बन गया।

अर्नब गोस्वामी ने लगभग एक दशक तक टाइम्स नाऊ चैनल में काम किया, फिर उन्होंने अपनी स्वयंकी चैनल पिछले साल में ही लॉन्च की जिसका नाम रिपब्लिक टीवी है।

अर्नब गोस्वामी के अनुयायी काफी है और आलोचक भी।

अपने बेबाकी और निडर पत्रकारिता के दम पर अर्नब गोस्वामी ने एक साल के अंदर रिपब्लिक टीवी को नंबर-1 अंग्रेजी चैनल बना दिया।

निजी जीवन-

goswami arnab

अर्नब का जन्म 9 अक्टूबर 1973 को गुवाहाटी असम के एक हिंदू परिवार में हुआ था। उनके पिता सेवानिवृत कर्नल है जो बाद भी भारतीय जनता पार्टी भाजपा में शामिल हुए जबकि उनकी मां एक लेखिका हैं।

2008 में अर्नब को पत्रकारिता में उत्कृष्टता के लिए रामनाथ गोयनका पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। अर्नब ने समरब्रत रे से शादी की और उनका एक बेटा भी है।

यह भी पढ़ें: अब Zee Media से जुड़े वरिष्ठ पत्रकार मनोज राजन त्रिपाठी

यह भी पढ़ें: रोहित सरदाना : पत्रकारिता के ‘दंगल’ में इन्हें नहीं दे सकता कोई मात !

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More