AMAR1

अमर सिंह

…जब अखिलेश की आंखों में खटकते थे अमर सिंह

एक दौर था जब समाजवादी पार्टी (सपा) में अमर सिंह की तूती बोला करती थी और मुलायम सिंह अपने हर फैसले को लेकर उनकी ओर देखा करते थे। लेकिन वक्त बदला तो उनकी सियासत का रंग भी फीका पड़ता चला गया।

सपा की बागडोर अखिलेश यादव के हाथों में आने के बाद अमर सिंह को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। नेताजी के खासमखास रहे ये ठाकुर नेता अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फैन बन चुके हैं। इसी का नतीजा है कि उन्हें अब भगवा रंग खूब भाने लगा है। रविवार को अमर सिंह लखनऊ में पीएम मोदी के कार्यक्रम में भगवा लिबास में नजर आए। इसके बाद उनके बीजेपी में जाने को लेकरसियासी अटकलें भी छिड़ गईं।

अमर सिंह की मर्जी के बगैर सपा में पत्ता भी नहीं हिलता था

सपा के पूर्व नेता और राज्यसभा सांसद अमर सिंह को एक दौर में मुलायम सिंह यादव का सबसे करीबी नेता माना जाता था। अमर सिंह की मर्जी के बगैर सपा में पत्ता भी नहीं हिलता था। लोकसभा और विधानसभा में टिकट से लेकर मंत्री बनाने तक का फैसला वे करते थे। नेताजी उन्हें अपना भाई बताते थे।

Also Read :  सावन का पहला सोमवार आज, ये राशियां ऐसे करें भगवान शिव को खुश

अमर सिंह के चलते मुलायम सिंह यादव ने राज बब्बर को पार्टी में साइडलाइन तो आजम खान को पार्टी से बाहर कर दिया था। मुलायम के दौर में वे दिल्ली में पार्टी के लिए लॉबिंग करने और मीडिया से बेहतर तालमेल बिठाने का जिम्मा उठाते थे। यही वजह थी कि वे मुलायम के आंख के तारे थे।

अखिलेश ने उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया

वक्त बदला और सपा की सियासी बागडोर अखिलेश यादव के हाथों में आई तो वही अमर सिंह पार्टी की आंख में खटकने लगे। हालत ये हुई कि अखिलेश ने उन्हें पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

सपा से निकाले जाने से बाद से अमर सिंह पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का भगवा रंग चढ़ने लगा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियां भी उन्हें पंसद आने लगी। यही वजह है कि वक्त-बेवक्त अमर सिंह मोदी की शान में कसीदे पढ़ने लगे हैं।

भगवा रंग का कुर्ता पहने पहली लाइन में बैठे थे

अमर सिंह रविवार को लखनऊ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम में मौजूद थे। अमर सिंह इस कार्यक्रम में भगवा रंग का कुर्ता पहने पहली लाइन में बैठे थे। मोदी ने अमर सिंह की तरफ इशारा करते हुए कहा कि यहां अमर सिंह बैठे हैं, वे सबकी हिस्ट्री निकाल देंगे।

60 हजार करोड़ रुपये की उद्योग परियोजनाओं के शिलान्यास के दौरान पीएम मोदी ने अमर सिंह का जिक्र करते हुए विपक्षी सरकारों के दौरान पर्दे के पीछे होने वाले कॉरपोरेट लॉबिंग पर निशाना साधा।

देश के तमाम नेता हैं जो पूजीपतियों से चंदा लेते हैं

एक समाचार चैनल से बातचीत में अमर सिंह कहा, ‘मोदीजी हमें अच्छा लगते हैं। मैं बीजेपी की सदस्यता लूं या नहीं, लेकिन मोदी के लिए काम करता रहूंगा। अमर सिंह ने कहा कि मोदीजी का चरित्र ऐसा है कि जिसके साथ वे संबंध रखते हैं। मर्द की तरह रखते हैं। वे छोटा-बड़ा नहीं देखते हैं। जबकि देश के तमाम नेता हैं जो पूजीपतियों से चंदा लेते हैं, लेकिन उनके साथ रिश्ते जाहिर नहीं करते हैं। उनकी करनी कथनी में फर्क होता है, लेकिन मोदी की नहीं।

बीजेपी में शामिल होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि अमित शाह को अधिकार है। मैं क्षत्रिय हूं छिपकर कोई काम नहीं करता हूं, जिस दिन बीजेपी में शामिल होना होगा प्रेस कॉन्फेंस करके जाऊंगा।

अमर सिंह की यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ भी नजदीकियां बढ़ती दिख रही है। रविवार को अमर सिंह ने एक बार फिर योगी से मुलाकात की। योगी से मुलाकात के बाद राजनीतिक गलियारों में उनके बीजेपी में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई हैं। हाल ही में अमर सिंह ने कहा था कि वह बीजेपी में शामिल होने के खिलाफ नहीं है।साभार

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)