Nawaz Sharif

नवाज शरीफ की गिरफ्तारी से पहले लाहौर में तैनात हुए 10 हजार पुलिसकर्मी

पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने जा रहे आम चुनाव से ठीक पहले पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ हाई ड्रामे के बीच अपनी अनुपस्थिति में जेल की सजा सुनाए जाने के बाद अपनी बेटी मरयम नवाज के साथ वापस अपने मुल्क लौट रहे हैं। ताकि, चुनाव से ऐन पहले अपनी पार्टी को एकजुट किया जा सके।

नवाज शरीफ के पहुंचने से 10 हजार पुलिस ऑफिसर तैनात

नवाज शरीफ के पहुंचने से पहले अथॉरिटिज की तरफ से करीब 10 हजार पुलिस ऑफिसर को लाहौर में तैनात किया गया है। इसके साथ ही, लाहौर को किले के रूप में तब्दील कर रोड और शिपिंग कंटेनर्स को रोकने की योजना बनाई गई है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के समर्थकों ने कहा है कि वे सभी सार्वजनिक रैलियों पर लगे प्रतिबंध को धत्ता बताते हुए एयरपोर्ट तक मार्च करेंगे जहां पर पूर्व प्रधानमंत्री कदम रखेंगे।

Also Read :  योगी राज में दलित युवती का रेप कर पत्थर से कूचा चेहरा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नवाज और मरियम को संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में अबू धाबी हवाई अड्डे पर गिरफ्तार किया जा सकता है। पाकिस्तान की विशेष टीम दोनों को गिरफ्तार करके लाहौर एयरपोर्ट लाएगी। समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार, दोनों को रावलपिंडी के अदियाला जेल में रखा जाएगा।

मरियम नवाज की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित

अबू धाबी पहुंचने के बाद नवाज ने कहा- मुझे सीधे जेल ले जाया जाएगा। लेकिन, मैं यह कुर्बानी पाकिस्तान और आनेवाली पीढ़ियों के लिए दे रहा हूं। साथ मिलकर पाकिस्तान की तकदीर बनाएंगे। नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज को गिरफ्तार करने के लिए एक 16 सदस्यीय टीम बनाई गयी है। दोनों को हवाई अड्डे से हेलिकॉप्टर के जरिये सीधा अदियाला जेल ले जाया जाएगा।

शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज के स्थानीय समयानुसार आज शाम 6.15 बजे लाहौर पहुंचने की संभावना है। शरीफ और मरियम को पाकिस्तान की एक अदालत ने एवनफील्ड अपार्टमेंट मामले में दोषी ठहराते हुए 10 और 7 साल की सजा सुनाई है।

 

पीएमएल-एन कार्यकर्ताओं पर कारवाई

पाकिस्तान में प्रशासन ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) कार्यकर्ताओं के खिलाफ बड़े पैमाने पर कारवाई शुरू की है। करीब 300 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है। पीएमएल-एन की अपने शीर्ष नेता और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की लंदन से स्वदेश वापसी पर हवाई अड्डे पर बड़ी रैली की तैयारी के मद्देनजर यह कारवाई शुरू की गई। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शाहबाज शरीफ ने कहा कि पीएमएल-एन के विरोधी दलों को रैली आयोजित करने की खुली छूट दी गई है, जबकि हमारे कार्यकर्ताओं को रोकने के लिए लाहौर में धारा 144 लागू कर दी गई है।

पत्नी को अल्लाह के भरोसे छोड़कर पाक लौट रहा हूं…

नवाज शरीफ ने कहा है कि वह अपनी बीमार पत्नी को लंदन में अल्लाह के भरोसे छोड़ रहे हैं। उन्होंने कहा, मैं जेल में डाले जाने या फांसी पर चढ़ाए जाने की परवाह किए बिना पाकिस्तान लौट रहा हूं। उधर, भ्रष्टाचार रोधी अदालत ने नवाज शरीफ के खिलाफ भ्रष्टाचार के शेष दो मामलों को किसी और जवाबदेही अदालत में स्थानांतरित करने की उनकी याचिका गुरुवार को खारिज कर दी गई।

(साभार- हिन्दुस्तान)

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)