योगी सरकार पर एक और गंभीर आरोप, दोषियों पर हो कार्रवाई !

0 528

जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम करने वाली योगी सरकार अक्सर विपक्ष की निशाने पर आ जाती है। इस बार फिर निशाने पर है और आरोप है एक विशेष जाति को लेकर पक्षपात करने का। हालांकि कुछ दिनों पहले आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भी कुछ इसी तरह का आरोप लगाए थे जिसके बाद उनके खिलाफ यूपी में कई मुकदमे दर्ज हुए।

इन दिनों सोशल मीडिया (व्हाट्सएप) पर योगी सरकार पर कुछ इसी तरह का आरोप लग रहा है। आरोप है कि वर्तमान सरकार एक विशेष जाति समुदाय के पक्ष में काम कर रही है।

व्हाट्सएप पर वायरल हो रहे ये पोस्ट-

1. जौनपुर के गोपालापुर शहरी के एक मदरसे में शशिकांत सिंह और निशाकांत सिंह नाम के दो ठाकुरों की नियुक्ति सन 2000 में दिखाई गई। तब से 5 सरकारें बदलीं, किसी ने भी इनकी नियुक्ति पर वेतन भुगतान का आदेश नहीं किया। योगी सरकार आते ही इनकी नियुक्ति पर तनख्वाह जारी करने का हुक्म दे दिया गया।

2. प्रयागराज के मदरसा मिस्बाहुल उलूम सब्जी मंडी में गोंडा जिले के रहने वाले मौजूदा रजिस्ट्रार आर पी सिंह ने अपने भाई इंद्रसेन सिंह की नियुक्ति जबरन सामान्य पद को वैकल्पिक कैटेगरी का दिखाकर करा दिया।और तो और सन 2020 में अपने भाई की नौकरी का स्वयम ही अनुमोदन कर दिया।

रजिस्टार आर०पी० सिंह

3. बाराबंकी जिला में एक मदरसा इमदादुल उलूम जैदपुर में भी एक सामान्य पद को वैकल्पिक कटेगरी में भरने की परमिशन देकर मौजूदा रजिस्ट्रार साहब ने अपने घर के ही मेंबर मानवेंद्र बहादुर सिंह की तैनाती कराकर अपने ही अनुमोदन दे दिया।

हालांकि योगी सरकार जीरो टालरेंस की नीति पर काम कर रही है। किसी भी अधिकारी, कर्मचारी या व्यक्ति के खिलाफ लगे आरोपों की विशेष जांच कराकर दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई कर रही है।

बहरहाल, वायरल हो रहे इस मामले का भी संज्ञान लेकर वर्तमान योगी सरकार को पूरे मामले की गंभीरता से जांच कराकर दो​षी पाए जाने वालों पर कठोर कार्रवाई करनी चाहिए जिससे जनता के बीच जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम करने वाली योगी सरकार की छवि साफ सुथरी बनी रहे।

यह भी पढ़ें: प्रियंका गांधी ने सीएम योगी को लिखा खत, कही ये बातें…

यह भी पढ़ें: यूपी : प्रियंका गांधी ने शेयर किया ‘अपराध मीटर’, योगी सरकार पर साधा निशाना

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More