yogeshraj bulandshahar

बुलंदशहर हिंसा के मास्टरमाइंड योगेश राज ने जारी किया वीडियो

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में भड़की हिंसा के मास्टरमांइड योगेश राज ने अपना वीडियो जारी किया है। योगेशराज ने वीडियो वायरल करते हुए खुद को बेकसूर बताया है। योगेशराज ने कहा कि जब इंस्पेक्टर को गोली लगी तब मैं थाने में था।

इस घटना से मेरा कोई लेना देना नहीं है। मुझे बहुत बड़े अपराधी की तरह दिखाया जा रहा है। योगेश राज ने कहा कि मुझे भगवान पर पूरा भरोसा वो ही मुझे न्याय दिलाएंगे। आपको बता दें कि योगेश राज बजरंग दल का जिला संयोजक और हिंसा का मुख्य आरोपी और नामजद भी है।

2016 में योगेश बना बजरंग दल का जिला संयोजक

योगेश राज पहले एक प्राइवेट नौकरी करता था। 2016 में योगेश बजरंग दल का जिला संयोजक बना। उसके बाद नौकरी छोड़कर पूरी तरह संगठन के लिए काम करने लगा।

योगेश राज ने सोमवार को हिंसक भीड़ की अगुआई की थी। यह स्याना के नयाबांस गांव का रहने वाला है और पहले भी कई विवादों में इसका नाम आ चुका है। पुलिस ने उसके खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 307, 302, 333, 353, 427, 436, 394 के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस एफआईआर के अनुसार योगेश राज अपने साथियों के साथ मिलकर भीड़ को भड़का रहा था।

Also Read :  बुलंदशहर : कुख्यात हिस्ट्रीशीटर ने किया तमंचे पर डिस्को

आपको बता दें कि बुलंदशहर में सोमवार को गोकशी को लेकर ग्रामीणों और पुलिसकर्मियों के बीच में बवाल हुआ था। ग्रामीणों ने पुलिस चौकी पर जमकर तोड़फोड़ की और वाहनों में आग लगा दी थी। इस दौरान उन्होंने पथराव और आगजनी भी की। ग्रामीणों द्वारा किये गए पथराव में स्याना कोतवाल सुबोध कुमार सिंह की मौत हो गई। इस हिंसक घटना में पुलिस फायरिंग में एक छात्र की भी मौत हुई है।

मुआवजे का सीएम ने किया था एलान

बता दें कि, सीएम योगी ने शहीद इंस्पेक्टर की पत्नी को 40 लाख रुपए और शहीद के माता-पिता को 10 लाख देने के साथ ही परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का वादा किया है। इसके साथ ही आश्रित परिवार को असाधारण पेंशन की भी घोषणा की है।

सरकार को नोटिस

बुलंदशहर मामले का संज्ञान लेते हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने सूबे की योगी सरकार को नोटिस जारी करते हुए जवाब तलब किया है। आयोग ने कई विंदुओं पर सवाल उठाए हैं और उन बिंदुओं पर सरकार से स्पष्टीकरण भी मांगा है। आयोग ने मुख्य सचिव और डीजीपी से इस मामले में चार हफ्ते में रिपोर्ट पेश करने को कहा है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)