उत्तर प्रदेश में फूटा कोरोना बम, 24 घंटे में 360 नए मामले

श्रमिकों और कामगारों के वापस लौटते ही बढ़े मामले

0 338
लखनऊ : यूपी में श्रमिकों व कामगारों Workers के अन्य राज्यों से लौटते ही कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ गये हैं। बीते 24 घंटों में रिकार्ड 360 पॉजिटिव मामले सामने आये हैं। इनमें Workers की भी बड़ी संख्या है।

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने कहा है कि जब से श्रमिक और Workers वापस लौट रहे हैं तब से संक्रमण के मामलों में भी बढ़ोतरी हुई है।

यूपी में कोरोना मरीजों की संख्या 5,356
यूपी में कोरोना मरीजों की संख्या 5,356
आज यूपी में कोरोना के 360 मरीज मिले
यूपी में कोरोना से 127 लोगों की मौत हुई
आज यूपी में कोरोना से 4 लोगों की मौत
आगरा में 845 लोग कोरोना से संक्रमित
आगरा में अबतक कोरोना से 27 की मौत
मेरठ में 349 लोग कोरोना से संक्रमित हैं
मेरठ में अबतक 21 लोगों की कोरोना से मौत

संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही

भारत समेत उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। यूपी में एक दिन में यह आंकड़ा अबतक का सबसे ज्यादा है। इतनी बड़ी संख्या में मामले सामने आने के बाद शासन-प्रशासन समेत सरकार में हड़कंप मच गया है। कोरोना के नए मामलों की जानकारी उत्तर प्रदेश सरकार के प्रमुख सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद ने दी।

अमित मोहन प्रसाद ने कहा, ‘पिछले 24 घंटों में राज्य में कोरोना वायरस के 360 नए मामले दर्ज किए गए हैं। इसके साथ ही प्रदेश में ऐक्टिव मामलों की संख्या 2,130 पहुंच गई है जबकि कोरोना वायरस की वजह से अबतक 127 लोगों की मौत हुई है और 3099 लोगों को इलाज के बाद ठीक होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया है।’ उन्होंने कहा, ‘जब से अन्य राज्यों से भारी संख्या में प्रवासी श्रमिक एवं Workers लौट रहे हैं, तब से संक्रमण के मामले भी अधिक सामने आ रहे हैं । अब तक इस संक्रमण से 127 लोगों की मौत हो चुकी है।’

बढ़े कोरोना केस

प्रमुख सचिव (चिकित्सा एवं स्वास्थ्य) ने बताया कि जब से प्रवासी श्रमिकों एवं Workers के नमूने लेने शुरू किए हैं, मामलों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है। आशा कार्यकर्ताओं ने प्रवासी श्रमिकों और Workers के घर-घर जाकर पांच लाख 42 हजार 543 प्रवासी श्रमिकों से संपर्क किया और 46,142 के नमूने एकत्र किए। इनमें से 1230 प्रवासी श्रमिक संक्रमित निकले। प्रसाद ने बताया कि 13,178 लोगों को आइसोलेशन सेंटर्स में रखा गया है। बुधवार को कुल 6740 नमूनों की जांच की गई। उन्होंने बताया कि अब कोरोना अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़कर लगभग 78, 500 हो गई है।

400 लोगों के लिए गए सैंपल्स

बलरामपुर जिले में दो वैज्ञानिकों के नेतृत्व में 27 लोगों की टीम ने जिले में 400 लोगों के ब्लड सैंपल लिए। एक गांव में 40 लोगों के ब्लड सैंपल लिए गए, जिससे गांव के सभी मजरों के लोग उसमें शामिल हो सकें।

क्या है प्लान?

कोरोना वायरस के संक्रमण से यह प्रतिरोधक क्षमता कैसे मुकाबला करेगी। आईसीएमआर ने देश में इस शोध के लिए दो तरह के स्थानों का चयन किया है, पहला हॉटस्पॉट एरिया और दूसरा ग्रामीण अंचल। जहां के 60 जिलों से 24 हजार लोगों के ब्लड सैम्पल जांच और शोध के लिए लिए जाने हैं।

लक्षणों के आधार पर दी गई सलाह

प्रमुख सचिव ने बताया कि आरोग्य सेतु ऐप का लगातार उपयोग किया जा रहा है और स्वास्थ्य विभाग के नियंत्रण कक्ष से अब तक 26,512 लोगों को फोन किया जा चुका है। उनमें से 74 लोग संक्रमित निकले, जिनका विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। कुल 42 लोग उपचार के बाद ठीक होकर घर चले गए हैं और 401 लोग आइसोलेशन केंद्र में हैं।

यह भी पढ़ें: वाराणसी में कोरोना ने ली चौथी जान, बीएचयू के पूर्व प्रोफेसर की हुई मौत

यह भी पढ़ें: कोरोना टेंशन के बीच वाराणसी से आई GOOD NEWS !

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More