विंग कमांडर अभिनंदन की कॉकपिट में वापसी, उड़ाया मिग-21

0 0

सुष्मिता दीक्षित-

भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को शायद ही कोई भूला हो। पाकिस्तान से वापस आने के बाद हर किसी ने अभिनंदन का जोरदार स्वागत किया। आज एक बार फिर वो चर्चे में हैं। आपको बता दें विंग कमांडर ने कॉकपिट में वापसी की है और साथ ही उन्होंने मिग-21 भी उड़ाया।

विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने बीती 27 फरवरी 2019 को पाकिस्तान वायु सेना के फाइटर प्लेन प्लेन  F 16 को मार गिराया था। खास बात तो यह है कि जिस वक्त उन्होंने पाकिस्तान का लड़ाकू विमान मार गिराया था उस वक्त भी वह मिग -21 ही उड़ा रहे थे। इस बहादुरी के लिए उन्हें स्वतंत्रता दिवस पर वीर चक्र से सम्मानित किया गया था।

यह भी पढ़ें: चांद पर भारत का परचम फहराने की ओर अग्रसर चंद्रयान-2

विंग कमांडर अभिनंदन की बहादुरी-

गौरतलब है कि 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर आतंकी हमला हुआ था। इस हमले में 40 भारतीय जवान शहीद हो गए थे।

इस हमले के ठीक 13 दिन बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में घुसकर आतंकी कैंपों को ध्वस्त कर दिया था। इस हमले में कई आतंकियों के मारे जाने की खबर मिली थी।

बालाकोट एयर स्ट्राइक के बाद बौखलाए पाकिस्तान ने दो दिन बाद अपने एफ-16 लड़ाकू विमान से भारत के नियंत्रण रेखा में घुसने की कोशिश की। उस समय विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान ने मिग-21 से पाकिस्तानी विमान को वापस खदेड़ दिया।

हालांकि वे इजेक्ट होने के दौरान पाकिस्तानी सीमा में जा गिरे। इसके बाद पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने उन्हें अपने कब्जे में ले लिया था।

भारत के कूटनीतिक दबाव के बाद आखिरकार पाकिस्तान को अभिनंदन वर्तमान को छोड़ना पड़ा था। लगभद 60 घंटों बाद विंग कमांडर अभिनंदन को वाघा बॉर्डर से रिहा किया गया था।

यह भी पढ़ें: NASA के पूर्व एस्ट्रोनॉट ने चंद्रयान-2 को बताया ख़ास, बोले, लैंडिंग पर पूरी दुनिया की नजर

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More