कुत्ते रात को इतना क्यों भौंकते हैं ? सच्चाई जान पैरों तले खिसक जाएगी जमीन

0 2,993

अक्‍सर दादी नानी कहती हैं कि कुत्‍तों का रोना अशुभ है, पर क्‍या वाकई। ऐसा बिलकुल नहीं है। क्‍या आपने कभी सोचा है असल में कुत्‍ते क्‍यों रोते हैं।

वैसे, ज्योतिषों का यह मानना है कि कुत्ते सबसे ज्यादा तब रोते हैं, जब उनके आसपास कोई आत्मा होती है। यानी कि आत्‍मा जिसे कि आमजन नहीं देख सकते, उसे देखकर कुत्ते रोने लगते हैं। इस कारण भी लोग अपने आसपास कुत्ते को रोता हुआ देख उसे भगाने लगते हैं।

dogs

मान्‍यताओं और ज्‍यो‍तष‍ियों से आगे अब आते हैं विज्ञान पर। सच तो ये है कि कुत्‍ते रोते नहीं है बल्‍कि इसे हाउल करना कहते हैं और ये उनकी संदेश पहुंचाने या अपनी बात कहने की तकनीक होती है।

अपने साथियों तक संदेश पहुंचाने के लिए-

जब कोई कुत्‍ता अपने झुंड तक अपनी लोकेशन पहुंचाना चाहता है या अपने साथियों को ढूंढ रहा होता है तो हाउल करके संदेश देता है कि वो कहां है और उसके साथी पलट कर हाउल करके उसे अपना जवाब भी देते हैं।

street dogs

अपने इलाके का ऐलान करने के लिए-

हर गली और मुहल्‍ले में कुत्‍तों के इलाके होते हैं। ऐसे में जब कोई दूसरा कुत्‍ता एंट्री लेने की कोशिश करता है तो उस एरिया के कुत्‍ते गुर्रा कर और हाउल करके उसे वार्न करते हैं और अपने दूसरे साथियों को इलाके की सुरक्षा के लिए आवाज देते हैं।

दर्द जाहिर करने के लिए-

street dogs

कुत्‍तों को अगर चोट लग जाये तो भी वो दर्द से कराहते हुए हाउल करते हैं। वैसे अगर बिच के बच्‍चे कहीं चले जायें तो भी उनकी तलाश के लिए हाउल करती है। इसके अलावा जब कुत्ते किसी चीज से इरिटेट हो रहे हों और अपनी नाराजगी जाहिर करना चाहते हों तो हाउल करते हैं।

यह भी पढ़ें: पुलिस ने खोला भूतों के झूले का सच

यह भी पढ़ें: भारत का सबसे रहस्यमय दरवाजा, ‘नाग पाशम’ मंत्रों से किया गया बंद; खुल तो आएगी प्रलय !

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।) 

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More