काम पूरा ना होने पर यह कंपनी पिलाती है पेशाब और खिलाती है कॉकरोच

अगर आप किसी कंपनी के लिए काम करते है, तो उसके कुछ टार्गेट होते है जिन्हे तय समय में पूरा करना होता होगा आगर आप वह नहीं कर पाते तो उसपर कंपनी के मालिक कुछ एक्शन लेते होगे जैसे- सैलरी काट लेना या सबके समाने डांट देना। यह सब अपने साथ होते देख आप सोचते होगे की आपके साथ बहुत बुरा हो रहा है। लेकिन आप पूरी तरह से गलत है हम आपको एक ऐसे ऑफिस के बारे में बताएंगे जहां टार्गेट पूरा ना होने पर ऐसी सजा दी जाती है जिसे सुनकर आपकी रूह कांप जाएगी।

टार्गेट ना पूरा होने पर कंपनी करती है बर्बता-

टार्गेट पूरा न करने पर सैलरी कट, इंसेंटिव और प्रमोशन रोकने जैसी अन्य कई तरह की सजाओं के बारे में आपने सुना और पढ़ा होगा। लेकिन एक कंपनी ऐसी है जो टार्गेट पूरा ना होने पर अपने कर्मचारियों को कॉकरोच खिलाती है और पेशाब पिलाती है।

यह भी पढ़े- मंदिर नहीं बना तो 6 दिसंबर को अयोध्या कूच करेंगे कारसेवक- कैलाशानंद ब्रह्मचारी

मामला चीन का है-

यह बात हम एक मीडिया रिर्पोट के मुताबिक रख रहे है,  चीन की इस गुईझोऊ कंपनी में कर्मचारियों के लिए सजा सिर्फ पेशाब पीने और कॉकरोच खिलाने तक ही सीमित नहीं बल्कि यहां उनकी बेल्टों से पिटाई भी की जाती है। सजा के तौर पर ही कुछ कर्मचारियों को सिर मुंडवाकर टॉयलेट के मग का पानी भी पीना पड़ता है।

मन ना भरने पर कंपनी सैलरी भी काटती है

खास बात यह है कि ये सजा उन्हें पूरे ऑफिस स्टाफ के सामने दी जाती है। इतने पर भी जब कंपनी का मन नहीं भरता तो कर्मचारियों की 1 महीने की सैलरी भी काट दी जाती है।

फॉर्मल ड्रेस ना होने पर पड़ता है जुर्माना

वहीं, जो कर्मचारी सही तरह से फॉर्मल ड्रेस में तैयार होकर ऑफिस नहीं आते या फिर कुछ फॉर्मल पहनना भूल जाते हैं उन्हें भी 50 यान (522 रुपये) का फाइन देना पड़ता है।

इतना सब होने के बाद भी कर्मचारी कंपनी छोड़ के नहीं जाते-

हैरान करने वाली बात यह है कि ऐसे अमानवीय बर्ताव के बावजूद गुईझोऊ कंपनी का ज्यादातर स्टाफ इस कंपनी को छोड़कर नहीं जाता। वहीं, इस कपंनी के 3 मैनेजरों को स्टाफ के साथ ऐसा बर्ताव करने पर 5 से 10 दिनों की जेल भी हो चुकी है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)