akhilesh yadav with yogi

…जब मुख्यमंत्री रहते अखिलेश ने भी रोका था योगी का रास्ता

कहते है इतिहास अपने आप को दोहराता है। आज हुई एक घटना ने इस कहावत को चरितार्थ कर दिया है। राजधानी लखनऊ में  उस वक्त सियासी उबाल आ गया जब सपा के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को यूपी पुलिस ने लखनऊ एयरपोर्ट पर ही रोक लिया।

दरअसल अखिलेश यादव प्रयागराज इलाहाबाद विवि में छात्रसंघ के कार्यक्रम में शिरकत करने जा रहे थे। यहां छात्र नेता का शपथग्रहण समारोह था, जिसमें अखिलेश को शामिल होना था। जिसे प्रशसान ने लखनऊ में रोक दिया।

Also Read :  ADM ने अखिलेश यादव को दिया धक्का, अखिलेश ने कहा हाथ नही लगाना

ये पहली बार नही हुआ है जब किसी को इस तरह रोका गया हो। एक समय ऐसा था जब सूबे की कमान अखिलेश के हाथ में थी और योगी आदित्यनाथ सांसद थे।

ये वो दौर था  2015 में यूपी की अखिलेश सरकार ने भी इसी तरह गोरखपुर के उस समय बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी जाने से रोक दिया था। सियासी गलियारे में इस घटना को उस घटना से जोड़कर देखा जा रहा है। इस मामले को लेते हुए कयास लगाए जा रहे हैं कही ये वहीं बदला तो नहीं है।

मामला 20 नवम्‍बर 2015 का है जब उस समय योगी आदित्‍यनाथ भदोही जिले से होते हुए इलाहाबाद यूनिर्वसिटी जा रहे थे और उन्‍हे औराई में ही प्रशासन द्वारा रोक दिया गया था। प्रशासन के रोक के बाद सांसद योगी आदित्‍यनाथ ने फोन से ही छात्र संघ के पदाधिकारियाेें को शुभकामना देकर लौटना पड़ा था। यह वीडियो उसी 20 नवम्‍बर 2015 का है जब योगी आदित्‍यनाथ को भदोही के औराई में रोक दिया गया था।

Also Read :  अपने साथ ऐसे ही व्यवहार के लिए तैयार रहे भाजपा : अखिलेश

20 नवंबर, 2015 को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ समारोह में गोरखपुर के तत्कालीन सांसद रहे योगी आदित्यनाथ को शामिल होने जाना था। तब यूपी में समाजवादी पार्टी की सरकार थी और अखिलेश यादव सीएम थे। अखिलेश की सरकार ने योगी आदित्यनाथ को इलाहाबाद की सीमा पर रोक दिया था, जिसके बाद वह छात्रसंघ के कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाए थे।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)