abhinandan

पीओके में पहुंचते ही अभिनंदन ने किया ये काम…

पाकिस्तान आज भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को रिहा कर देगा। हालाँकि उनकी रिहाई कुछ घंटों के लिए टाल दी गयी है। अभिनंदन का एक एक पल पाकिस्तान में कैसे बीत रहा होगा, इसे हर भारतीय समझता है। पाकिस्तान से जारी उनके हर फोटो और वीडियो से भारतियों में  जानने की उत्सुकता है कि आखिर पाकिस्तान पहुँचने के बाद उनके साथ क्या क्या हुआ होगा। सभी जानना चाहते हैं कि पड़ोसी देश पाकिस्तान में कैसे बीते उनके पिछले कुछ दिन…

पाक कब्जे वाले क्षेत्र में पहुंचे अभिनंदन के साथ हुआ ये सब..

अभिनंदन की बहादुरी को तो पाकिस्तानी अखबार ने भी माना है, बता दें कि पाकिस्तानी अखबार ‘द डॉन’ के मुताबिक़ अभिनंदन वर्तमान पैराशूट के जरिए पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू कश्मीर में जा गिरे। वह स्थानीय भीड़ से घिरे थे लेकिन उन्होंने बचने के लिए निहत्थे लोगों पर गोली नहीं चलाई। वह लगातार हवाई फायर करते रहे और चेतावनी देते रहे।

दरअसल, भारतीय एयरफोर्स की एयर स्ट्राइक के बाद बुधवार को पाकिस्तानी एयरफोर्स के फाइटर्स ने जम्मू-कश्मीर में घुसने की कोशिश की। इसके बाद भारतीय फाइटर विमानों ने इसका जवाब दिया। इसी दौरान पाकिस्तान ने इंडियन एयरफोर्स के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को गिरफ्तार कर लिया। पर अब पाक आर्मी द्वारा पकड़े जाने से पहले अभिनंदन के साथ हुआ, ये बात अब सामने आई है।

पाकिस्तानियों ने बोला अभिनंदन से झूठः

पाकिस्तानी अखबार ‘द डॉन’ के मुताबिक अभिनंदन का विमान बुधवार सुबह करीब 8.45 बजे पीओके के भिंबर जिले में क्रैश हुआ, जहां लोगों ने आग की लपटों से घिरे विमान से एक पायलट को पैराशूट के जरिए उतरते देखा। उन्होंने इस बारे में गांव के बाकि लोगों को बताया।

 भारत बता पकड़ने की कोशिश कीः

जमीन पर उतरने के बाद अभिनंदन ने वहां मौजूद कुछ लड़कों से पूछा कि यह भारत है या पाकिस्तान। वहां मौजूद एक शख्स ने उनसे झूठ बोला और कहा कि यह भारत है। अभिनंदन ने पूछा- भारत में कौन सी जगह। युवक ने बताया कि इस जगह का नाम किलान है। अभिनंदन ने बताया कि उनकी पीठ में चोट लगी है और उन्हें पीने के लिए पानी चाहिए।

घायल अभिनन्दन पर लोगों ने किया पत्थर से हमलाः

लेकिन घायल अभिनन्दन पर कुछ ही देर बाद लोगों ने पत्थर से हमला कर दिया, अभिनंदन को ये समझने में देर नहीं लगी कि वह पीओके में हैं। अभिनंदन ने भीड़ से बचने की कोशिश की, वहीं लोगों ने उनके पकड़ने की कोशिश की, हालाँकि इस दौरान अभिनंदन ने अपनी सर्विस रिवॉल्वर निकाली और हवा में फायर किया लेकिन किसी भी स्थानीय पर हमला नहीं किया।

अभिनंदन ने की सर्विस रिवॉल्वर से हवाई फायरिंगः

भीड़ उनपर हमला करती रही, पत्थर फेंकती रही। इसके बावजूद अभिनंदन सिर्फ हवाई फायर करते हुए अपनी जान बचाने की कोशिश करते रहे किसी भी पाकिस्तानी को चोट पहुँचाने की नहीं।

जरूरी दस्तावेज पाकिस्तानियों के हाथ में जाने से पहले किये नष्ट:

इसी दौरान उन्होंने एक तालाब में छलांग लगा दी। यहां उन्होंने अपनी जेब से कुछ दस्तावेज और नक्शे निकाले और उन्हें चबा डाला, बाकी जरूरी दस्तावेज उन्होंने तालाब में गला दिए, ताकि भारतीय खुफिया दस्तावेज पाकिस्तानियों के हाथ न लग जाएं।

इसके बाद भी हिंसक युवकों ने भी उनका पीछा नहीं छोड़ा। वे उनके साथ मारपीट करने लगे लेकिन पिस्तौल होते हुए भी अभिनंदन ने उन पर गोलियां नहीं चलाईं। भीड़ के हमले में उनके चेहरे पर चोट आ गई।

इसी बीच पाकिस्तान आर्मी वहां पहुंच गई और अभिनंदन को अपने कब्जे में ले लिया। उनके चोट की फोटो और पाक आर्मी के बीच बना एक वीडियो भी वायरल हुआ जिसे पूरे देखा और यहीं वीडियो बना अभिनंदन की वासपी का जरिया।