MODI YOGI KI EDUCATION

कितने पढ़े लिखे हैं BJP के ये बाहुबली मंत्री, जाने योगी से लेकर मोदी तक पढ़ाई

मंच पर उतरते ही जब भाजपा नेता माइक संभालते है तो लोग सुनते है। नारेबाजी करते है। उनके भाषणों को सुनने के लिए हुजुम से उमड़ पड़ता है।  क्या आप जानते हैं आपके पंसदीदा भाजपा मंत्रियों ने आखिर कितनी पढ़ाई की है। एक समय था जब युवा फिल्मी सितारों के बारे में जानने के लिए उत्सुक रहते थे लेकिन अब आज के युवा राजनीति में भी दिलचस्पी रखती है।

बॉलीवुड सितारों के बारे में तो बहुत लोग जानते होंगे कि कौन सा सितारा कब पैदा हुआ कब काम शुरु किया और सबसे ज्यादा दिलचस्पी लोग उनकी क्वालिफिकेशन में लेते हैं। मगर आज हम आपको भाजपा में कुछ बड़े नेताओं की पढ़ाई के बारे में बताएंगे।

आज हम आपको भारत के प्रधानमंत्री और भाजपा के प्रमुख नरेंद्र मोदी, स्मृति ईरानी के अलावा भाजपा के उन नेताओं के डिग्री के बारे में बताएंगे जो देश की सत्ता पर बैठेत हैं और अपने क्षेत्र में अच्छा योगदान दे रहे हैं। कितने पढ़े-लिखे हैं बीजेपी के ताकतवर नेता? इस बारे में आपको जरूर जानना चाहिए कि आपका भविष्य कितने पढ़े-लिखे नेताओं के हाथ में चल रहा है।

कितने पढ़े-लिखे हैं बीजेपी के ताकतवर नेता?

इस आर्टिकल में आपको जानकर हैरानी होगी कि जो लिस्ट हम आपको बताने जा रहे हैं उसमें कोई सिर्फ छठी पास है तो कोई मास्टर्स की डिग्री लिए है। कोई वकील है तो कोई एक्ट्रेस रह चुकी है। अगर आप इन बीजेपी नेताओं को पसंद करते हैं तो आपको इनके एजुकेशन के बारे में जरूर जानना चाहिए।

भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का नाम दुनिया के दमदार लीडर्स में लिया जाता है। नरेंद्र मोदी अपने माता पिता की तीसरी संतान रहे हैं और इन्होंने गुजरात के वडनगर से हायर सेकेंडरी से पढ़ाई की और राजनीति शीर्ष स्थान हासिल करने वाले नरेंद्र मोदी पढ़ाई में औसतन विद्यार्थी रहे हैं।

Also Read :  पीएम के कार्यक्रम से पहले सपा कार्यकर्ताओं को किया गया ‘नजरबंद’

साल 1978 में उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी से डिस्टेंस एजुकेशन के जरिए पॉलिटिकल साइंस से ग्रेजुएशन किया और 5 साल बाद गुजरात यूनिवर्सिटी से इसी सबजेक्ट में मास्टर की डिग्री हासिल की। बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह को नरेंद्र मोदी का बायां हाथ माना जाता है। बहुत कम लोग ही जानते होंगे कि राजनीति में आने से पहले शाह बैंक में नौकरी करते थे।

इन्होंने अहमदाबाद के को-ऑपरेटिव बैंक में काम किया और इनके पिता अनिलचंद्र शाह बिजनेसमैन हैं। अमित शाह की शुरुआती पढ़ाई मेहसाणा में हुई और इसके बाद इन्होंने बायोकैमिस्ट्री में ग्रेजुएशन किया फिर अहमदाबाद के सीयू शाह साइंस कॉलेज में बायोकैमिस्ट्री में बीएससी की। इसके बाद कुछ समय तक इन्होंने अपने पिता का बिजनेक ज्वाइन किया था।

देश के पढ़े-लिखे नेताओं में से एक अरुण जेटली भी हैं वो वित्त मंत्रालय संभालने वाले अरुण जेटली दिल्ली हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के एक वरिष्ठ वकील भी रहे हैं। उनकी शुरुआती पढ़ाई दिल्ली के सेंट जेवियर्स स्कूल से हुई, इसके बाद उन्होंने दिल्ली यूनिवर्सिटी श्रीराम कॉलेड ऑफ कॉमर्स से ग्रेजुएशन किया। कॉलेज के दिनों में जेटली प्रेसिडेंट भी रहे हैं और इन्हें अक्सर डिबेट, क्रिकेट और कई तरह की एक्टिविटीज में भाग लेना पसंद था।

योगी आदित्यनाथ

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ अपने कॉलेज के दिनों में एक बेस्ट स्टूडेंट रहे हैं। राजनीति में हमेशा अव्वल रहने वाले योगी आदित्यनाथ मैथ से ग्रेजुएट किए हैं। उनकी शुरुआती शिक्षा उत्तराखंड के प्राथमिक स्कूल से हुई और इसके बाद उन्होंने गढ़वाल यूनिवर्सिटी में एडमिशन लिया जहां पर इन्होने गणित में बीएससी की डिग्री हासिल की है। कॉलेज के दिनों में वह बहुत अच्छे वक्ता भी हैं।

सुष्मा स्वराज

भारतीय जनता पार्टी की नेता और भारत की विदेश मंत्री सुष्मा स्वराज हरियाणा सरकार में सबसे कम उम्र की कैबिनेट मिनिस्टर बनने वाली पहली महिला रही हैं। सुष्मा स्वराज एक बेहतर राजनेता के अलावा वकालत की भी पढ़ाई की है। उन्होंने अंबाला के एसडी कॉलेज से संस्कृत और पॉलिटिकल साइंस में बीए की भी डिग्री ली है। इसके बाद सुष्मा ने लगातार तीन साल तक बेस्ट हिंदी स्पीक विनर बनीं।

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी इस समय केंद्रीय कपड़ा मंत्री हैं लेकिन राजनीति में आने से पहले ये बहुत ही अच्छी एक्ट्रेस रही हैं। इन्होंने स्टार प्लस के ऐतिहासिक सीरियल क्योंकि सास भी कभी बहू थी में लीड एक्ट्रेस के तौर पर काम किया था। ऐसा बताया जाता है कि उनके पास येल यूनिवर्सिटी की डिग्री है लेकिन बाद में ऐसी खबर थी कि उन्होंने सांसदों के साथ सिर्फ 6 दिन का कोर्स किया था। स्मृति ने दिल्ली के होली चाइल्ड ऑक्सिलियम स्कूल से 12वीं और डीयू से कॉरेस्पोंडेस के जरिए बीए की डिग्री हासिल की।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह

साल 1951 में जन्में गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जब अपनी राजनीति पारी खेली उसके पहले वो प्रोफेसर रहे हैं। उन्होंने गोरखपुर यूनिवर्सिटी में फिजिक्स में ग्रेजुएशन किया था और फिर साल 1971 में केबी डिग्री कॉलेज के लेक्चरर भी थे अब ये राजनीति में सक्रिय और देश के गृहमंत्री हैं।

सुब्रमण्यम स्वामी

सुब्रमण्यम स्वामी का नाम एक राजनीतिज्ञ के तौर पर ही नहीं बल्कि वो एक अर्थशास्त्र और गणितज्ञ के रूप में भी पहचाने जाते हैं। इनका जन्म एक एजुकेटेड फैमिली में हुआ और इन्होंने हिंदू कॉलेड से मैथ में बैचलर डिग्री हासिल की इसके साथ ही दिल्ली यूनिवर्सिटी में तीसरे स्थान पर भी रहे। स्वामी के पिता सीताराम सुब्रमण्यम भारतीय सांख्यिकी सेवा पर अधिकारी पद पर कार्यरत थे।

पिता के बाद सुब्रमण्यम ने केंद्रीय सांख्यिकी संस्थान के निर्देशक के तौर पर काम संभाला. स्वामी ने आगे की पढ़ाई दिल्ली और कोलकाता से गी और साल 1965 में हॉर्वर्ड यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में पीएचडी की डिग्री ली।

मध्य प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती सिर्फ 6वीं कक्षा तक पढ़ीं हैं लेकिन राजनीति में बहुत माहिर हो चुकी हैं। इस समय वो केंद्रीय मंत्री हैं और गंगा नदी के लिए कई अहम कदम उठा चुकी हैं।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)