बनारस को रोल-कैमरा-एक्शन मोड में लाने की हो चुकी है तैयारी – आरूष दत्त दुबे

0 291

अक्सर जब आप बनारस के घाटों पर बैठ कर गंगा के अलग-अलग स्वरूप को देखने की कोशिश करेंगे तब बैठे-बैठे आपको ये सोचने का मौका मिलेगा: “अगर ये घाट और ये अलग-अलग के आकार में सजा बनारस कुछ बोल पता।” शायद उन्हीं शब्दों की खोज में बनारस ने आपने आप को कैमरा-फ्रेंडली बना लिया है।

बनारस बन रहा एथनिक फिल्म सिटी-

अब बनारस सिर्फ धर्म की नगरी ही नहीं रह गई है बल्कि ये बॉलीवुड की एथनिक फिल्म सिटी बनती जा रही है। कई सारी फिल्म, वेब सीरीज ने बनारस को अपने शूट का केंद्र बन कर अपनी पिक्चर का प्लॉट तैयार किया है।

बनारस को अब अलग-अलग नजरों से सवारा जा रहा है। कुछ दिनों पहले शूट हुए गाने Dua by Om के डायरेक्टर और प्रोड्यूसर आरुष दत्त दुबे से जब जर्नालिस्ट कैफे को बताया कि “बनारस को कैमरे के फ्रेम में अब डेवेलप करने की ज़रूरत है। हर पंजाबी गानों में पंजाब की संस्कृति और वहां के लोगों को दिखाया जात है, और ऐसा ही दक्षिण के फिल्म में भी होता है।”

गानें में बनारस की सरलता को दिखाने की कोशिश-

varanasi

बनारस के बारे में किताबों में कई सारी चीजें लिखी गई है। मोक्ष की नगरी काशी को कई लोगों ने अपनी-अपनी नज़रों से देख के लोगों के सामने रखा है। मूल रूप से बनारस के रहने वाले आरुष ने अपनी एक नई पहल के बारे में बताते हुए कहा कि “अब बनारस मॉडर्न पहचान देने की ज़रूरत है। ये घाट और गंगा जो कि एक शांत सी तस्वीर हम सबके सामने पेश करती है उन्हें अब रोल-कैमरा-एक्शन की ज़रूरत है।”

कैफे के कांसेप्ट आने वाले है बहुत काम-

बनारस में इन दिनों कई सारे कैफे और रेस्टोरेंट खुल रहे है। दिलचस्प बात ये है कि, ये सभी कैफे और रेस्टोरेंट नई अवधारणाओं के साथ जन्म ले रहे हैं और शहर में एक नए कैफे कल्चर को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे है। फ्लैशबैक स्टूडियो की टीम ने अपने गाने में बनारस के टेराकोटा कैफे और बाटी चोखा रेस्टोरेंट को दिखाया है। आरुष ने बताया कि “कैफे और रेस्टोरेंट किसी भी गाने के लिए बहुत ज़रूरी है। बाटी चोखा रेस्टोरेंट के कल्चर ने गाने में हीरोइन के किरदार एक साथ अपना तुक बैठाया जिससे की गाने को बहुत लोगों ने पसंद किया।”

लाज़मी है की बनारस ने अपने आप रोल-कैमरा-एक्शन के मोड में लाने की पूरी तैयारी कर ली है, जिससे अब बॉलीवुड के बुद्धिजीवी वर्ग बनारस की ओर जरूर आकर्षित होगा।

यहां देखें खूबसूरत गाना-

यह भी पढ़ें: होली पर वाराणसी के गंगा घाटों से नही चलेंगी नाव, गंगा स्नान पर रहेगी बंदिशें, धारा 144 भी होगा लागू

यह भी पढ़ें: बनारस के इस दारोगा ने पुलिस चौकी को बनाया था पाठशाला, विदा हुए तो बच्चों के छलक पड़े आंसू

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More