प्रमोशन मिलने से खिले उठे यूपी पुलिस के सिपाहियों के चेहरे

उत्तर प्रदेश पुलिस में बढ़ रहे बगावती सुर को थामने के लिए प्रशासन ने सिपाहियों को प्रमोशन देने का ऐलान किया था। इस प्रमोशन के तहत 25 हजार से ज्यादा सिपाहियों को प्रमोट किया जाएगा। जैसे ही ये खबर आयी, लखनऊ में सिपाहियों के चेहरों पर ख़ुशियां झलकने लगीं। लखनऊ की हजरतगंज कोतवाली में सिपाहियों ने इस प्रोन्नति का सेलिब्रेशन भी किया।

यहां मनाया गया जश्न

जानकारी के मुताबिक, डीजीपी उत्तर प्रदेश के निर्देशों के क्रम में उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड द्वारा 25091 आरक्षियों को मुख्य आरक्षी के पद पर प्रोन्नति प्रदान की गई, जिसे लेकर लखनऊ के हजरतगंज कोतवाली में सिपाहियों ने प्रोन्नति का सेलिब्रेशन किया।

Also Read: खुशखबरी: यूपी में 25 हजार से ज्यादा सिपाहियों का होगा प्रमोशन

इस कार्यक्रम के दौरान सीओ अभय कुमार मिश्र, महिला थाना इंस्पेक्टर शारदा चौधरी और हजरतगंज इंस्पेक्टर ने सभी सिपाहियों के साथ मिल कर केक भी काटा। इसके साथ ही कोतवाली में पुलिसकर्मियों ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर प्रमोशन का जश्न मनाया।

लंबे समय बाद सिपाहियों को मिला है प्रमोशन 

केक काटने के बाद हजरतगंज सीओ अभय कुमार ने बताया कि सिपाहियों के लंबे समय बाद प्रमोशन मिलने से सिपाहियों के चेहरों पर खुशियां देखने को मिलीं हैं।

Also Read : सीटों के लिए कांग्रेस से भीख नहीं मांगेगी बीएसपी- मायावती

यूपी पुलिस में पहली बार इतनी बड़ी तादाद में सिपाहियों का प्रमोशन हो रहा है। सिपाहियों को प्रमोट करने की पहल राज्य के डीजीपी की तरफ से की गई है। मिली जानकारी के मुताबिक 1975 से 2004 बैच तक के सिपाहियों को प्रमोट करके हेड कॉन्स्टेबल बनाया जाएगा।

इसलिए हो रहा प्रमोशन

इससे पहले बड़े पैमाने पर साल 2016 में 15,803 पुलिसकर्मियों का प्रमोशन किया गया था। इन कॉन्स्टेबल के प्रमोट होने के बाद भी पुलिस महकमे में हेड कॉन्स्टेबल के करीब 11852 पद खाली पड़े हैं। प्रमोशन के लिए करीब 29000 कॉन्स्टेबल के नाम पर विचार हुआ लेकिन 4000 को प्रमोशन के लिए उपयुक्त नहीं पाया गया।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)