pachuri

राष्ट्रपति के सम्मान में नहीं खड़े होते है योगी के मंत्री

शिष्टाचार और नैतिकता का पाठ तो सभी अपने बचपन में पढ़ते है लेकिन लगता है भाजपा के एक ‘माननीय’ ने ये पाठ नही पढ़ा है।

शायद इसलिए देश के महामहिम राष्ट्रपति से लेकर प्रदेश के सीएम तक खड़े हो और एक माननीय ने खड़े होने की जहमत नही उठाई। दरअसल, बीते शुक्रवार को यूपी की राजधानी लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में एक जिला एक उत्पाद समिट का आयोजन किया गया था।

स्मृति चिन्ह भेंट कर उन्हें सम्मान दे रहे थे

इस दौरान महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी शिरकत की थी। कार्यक्रम के दौरान सीएम योगी महामहिम राष्ट्रपति को स्मृति चिन्ह भेंट कर उन्हें सम्मान दे रहे थे।

Also Read : बहन जी को मिला जिग्नेश मेवाणी का साथ

मंच पर मौजूद सभी लोग खड़े होकर उनका अभिवादन कर रहे थे सिवाय एक के। वो एक माननीय थे कैबिनेट मंत्री सत्यदेव पचौरी। इतना ही नहीं इस दौरान मंत्री जी पानी पीने में मगन रहे। महामहिम के सम्मान के समय वो खड़े नही हुए।

mantri

मामले ने तूल पकड़ा और देखते ही देखते सत्यदेव पचौरी की फोटो सोशल मीडिया से लेकर मीडिया में चर्चा का विषय बन गई। इस फोटो के साथ तरह तरह के मजकिया कैप्शन लगाकर मजाक उड़ा रहे है।

अरे माननीय जी अगर आप ने शिष्टाचार का पाठ नहीं पढ़ा है तो कम से कम दूसरों को देख कर ही खड़े हो जाते । कम से कम मीडिया में इतनी फजीहत तो न हुई होती। साथ ही उत्तर प्रदेश के खादी ग्रामोग्योग व लघु उद्योग मंत्री सत्यदेव पचौरी ने समिट की तैयारी में काफी समय दिया था। उन्होंने हर कोने का जायजा भी लिया था।

(अन्य खबरों के लिए हमेंफेसबुकपर ज्वॉइन करें। आप हमेंट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)