वरमाला डालकर भाग गया दूल्हा, दुल्हन की होने वाली भाभी से रचाई शादी

फेरों से पहले दूल्हा हुआ फरार

0 368

राजस्थान के तारपुरा गांव में हुई एक शादी के दौरान अजीब वाकया हुआ. वरमाला के बाद फेरों से पहले दूल्हा दुल्हन को छोड़कर फरार हो गया और फ‍िर बाद में दूसरी शादी रचा ली. शादी भी उस लड़की से की ज‍िससे होने वाले साले की शादी होनी थी.

ये भी पढ़ें- वैक्सीन लगवाने के बाद इतने दिनों तक न बनाएं शारीरिक संबंध, डॉक्टर्स ने दी चेतावनी

दहेज न देने पर उठाया कदम

दरअसल, 3 जुलाई को शादी में दूल्हे ने दुल्हन को वरमाला पहनाई. आरोप है क‍ि उसके बाद दूल्हे व उसके पिता ने दुल्हन के परिजनों से अचानक सवा लाख रुपये और बाइक देने की मांग रख दी. दुल्हन के पिता ने अपनी मजबूरी बताकर इस मांग को पूरा नहीं करने पर हाथ जोड़ लिए. उधर दुल्हन मंडप पर दूल्हे का इंतजार करती रही और दूल्हा बहाना करके वहां से भाग ल‍िया. उसके बाद पूरी बारात भी लौट गई. घटना का पता चलने पर दुल्हन ने दूल्हे और उसके परिवार के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए एसपी को शिकायत की है.

आटा-साटा प्रथा के तहत हो रही थी शादी

तारपुरा गांव की सुभिता पुत्री सुरजाराम जांग‍िड़ ने बताया कि 3 जुलाई को उसकी शादी झुंझुनूं जिले के बुगाला गांव निवासी अजय के साथ होनी थी. उसके खुद के भाई पंकज की शादी आटा-साटा के तहत कंचन नाम की लड़की से 5 जुलाई को तय थी.

इधर, अजय ने रविवार कों झुंझुनूं जाकर कंचन से शादी कर ली. बताया गया कि इन सबका रिश्ता अजय के मामा आनंद कुमार ने कराया था. ये सब आटा-साटा प्रथा के तहत हुआ था. दो महीने पहले ही सुभिता और अजय की सगाई हुई थी. लड़की के पक्ष वालों का कहना है कि शादी से पहले अजय के परिजनों ने बताया कि उनका लड़का निजी कंपनी में अच्छी जॉब करता है. लेकिन बाद में पता लगा कि वह ऐसी कोई नौकरी नहीं करता है.

पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

शादी

3 जुलाई को दूल्हे के फरार हो जाने के युवती दुल्हन के लिबास में दादिया थाने में शिकायत देने पहुंची थी. शादी की तैयारी के ल‍िए उसके परिवार द्वारा खर्च किए गए आठ से दस लाख रुपये लड़के वालों से वापस दिलाने की शिकायत सौंपी और अजय पर शारीरिक व मानसिक शोषण के आरोप लगाए. एसपी कुंअर राष्ट्रदीप ने इस मामले ने बताया कि दुल्हन सुभिता की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. मामले की जांच की जा रही है

क्या है आटा-साटा प्रथा

बता दें क‍ि आटा-साटा प्रथा के मुताबिक, दुल्हन के परिवार के सदस्य से उसके पति के घर की एक लड़की की शादी करवाई जाती है. यह एक तरह समझौता होता है, जिसके तहत दो परिवारों के सदस्यों के बीच शादियां होती हैं. लड़के के परिवार को आटा-साटा प्रथा की शर्त के अनुसार, अपने घर की एक बेटी की शादी पत्नी के परिवार में करनी ही होती है.

ये भी पढ़ें- सुहागरात के दौरान दुल्हन की हुई मौत, जानिए क्या था कारण

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More