Tabligi Jamat से जुड़े 22 हजार लोगों को क्वारेंटीन किया गया

नहीं माने जमाती...कानपुर में डॉक्टरों से बदतमीजी, वॉर्ड में थूका

0 24

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने शनिवार को कहा कि 17 राज्यों में Tablighi Jamat से संबंधित लोगों में 1023 लोग कोरोना पॉजिटिव पाये गए हैं। कुल मामले में 30 प्रतिशत एक जगह से Tablighi Jamat से संबंधित हैं। इसके साथ ही Tablighi Jamat से जुड़े 22 हजार लोगों को विभिन्न राज्यों में क्वारेंटीन किया गया है।

सरकार ने लोगों से अपील की है हमें हर स्तर पर एक ही प्रयास करना चाहिए कि मिलकर काम करें और कहीं चूक न हो।

17 प्रतिशत मरीज 60 साल के ऊपर के

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, 9 प्रतिशत कोरोना के मरीज 0 से 20 साल की उम्र के बीच हैं। 42 प्रतिशत लोग 20-40 के बीच आयु के लोग हैं , जबकि 33 प्रतिशत लोग 40-60 के बीच के हैं। 17 प्रतिशत मरीज 60 साल के ऊपर के हैं।

उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा, “हाई रिस्क लोग सरकार के निदेशरें का पालन करें। सरकार के कदम सफल साबित हो रहे हैं। लेकिन हम एक संक्रामक बीमारी का सामना कर रहे हैं,अगर चूक हुई तो स्थिति खराब हो सकती है।”

अग्रवाल ने कहा, “कोरोना के खिलाफ मिलकर लड़ाई लड़नी है। एक्शन प्लान को लेकर गाइडलाइन जारी की गई है। मुंह ढकने को लेकर एडवाइजरी की गई है। टेस्टिंग बढ़ाने पर हमारा जोर है।”

मंत्रालय के मुताबिक, देशभर में अब तक कोरोना के मरीजों की संख्या 2992 है। अब तक 68 लोगों की मौत हुई है, जबकि 183 लोग ठीक हो गये हैं। ये आंकड़े शनिवार सुबह 9 बजे तक के हैं।

नहीं माने जमाती…कानपुर में डॉक्टरों से बदतमीजी

गाजियाबाद और बिजनौर के अलावा यूपी के कानपुर में भी Tablighi Jamat के लोगों ने डॉक्टरों के साथ अभद्रता की है। कानपुर के जिला अस्पताल के चिकित्सकों ने भी प्रशासन से इन सभी की अभद्रता की शिकायत की है।

गाजियाबाद के बाद अब कानपुर के एक अस्पताल में भी Tablighi Jamat के सदस्यों पर स्वास्थ्य कर्मियों से अभद्रता करने का आरोप लगा है। कानपुर स्थित लाला लाजपत राय अस्पताल की प्रधानाचार्य आरती लालचंदानी ने शनिवार को बताया कि चिकित्सालय के कुछ कर्मियों ने इल्जाम लगाया है कि आइसोलेशन वॉर्ड में रखे गए कुछ मरीजों ने उनके साथ अभद्रता की है।

अपना रवैया नहीं सुधारा तो इनके खिलाफ कार्रवाई

उन्होंने कहा कि हाल में दिल्ली से Tablighi Jamat के कार्यक्रम में शिरकत करके लौटे 22 लोगों को लाला लाजपत राय अस्पताल के आइसोलेशन वॉर्ड में भर्ती कराया गया। वॉर्ड के अधिकारियों ने आरोप लगाया है कि उन लोगों ने अस्पताल कर्मियों से बदतमीजी की है। आरती ने कहा कि अगर इन लोगों ने अपना रवैया नहीं सुधारा तो इनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

-Adv-

यह भी पढ़ें : बस एक अफवाह, आनंद विहार पर उमड़ गई हजारों की भीड़

यह भी पढ़ें : योगी ने ‌दिए जेलों में बंद 11 हजार बंदियों को रिहा करने के आदेश

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More