तो इसलिए योगी ने नोएडा को बचाने के लिए सुहास को चुना

गौतमबुद्धनगर (नोएडा) की कमान संभालते ही सुहास एलवाई हरकत में आ गए हैं

0 4,958

गौतमबुद्धनगर (नोएडा) की कमान संभालते ही सुहास एलवाई (Suhas Lalinakere Yathiraj) हरकत में आ गए हैं। अलसुबह 5 बजे जब लोग नींद में थे तो सुहास एलवाई कलेक्ट्रेट पहुंचे और अपना पदभार ग्रहण किया। यही नहीं जिले की कमान संभालते ही उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक की और कोरोना से लड़ने की रणनीति बनाई। यकीनन सुहास एलवाई का यही अंदाज उन्हें उत्तर प्रदेश ब्यूरोक्रेसी में अलग मुकाम दिलाता है। और यही कारण है कि सबसे मुश्किल वक्त में सीएम योगी आदित्यनाथ ने नोएडा का कलेक्टर बनाया।

यह भी पढ़ें: सुहास एलवाई ने जीता ब्रांज मेडल, सीएम योगी ने दी बधाई

Suhas Lalinakere Yathiraj प्रशासनिक क्षमता का मंगवा चुके हैं लोहा-

2007 बैच के आईएएस सुहास एलवाई जिन जिलों में रहे, अपनी प्रशासनिक क्षमता का लोहा मनवाया। नोएडा का डीएम बनने से पहले सुहास एलवाई… प्रयागराज, आजमगढ़, जौनपुर, सोनभद्र, महाराजगंज व हाथरस रह चुके हैं। गौतम बुद्ध नगर के नए जिलाधिकारी का पदभार संभालने से पहले सुहास एल वाई इससे पहले लखनऊ में यूपी के नियोजन विभाग में स्पेशल सेक्रेटरी पद पर तैनात थे। इससे पहले वह प्रयागराज में साल 2019 में डीएम थे. तो वहीं, साल 2017 में वह यूपी सरकार के एक्साइज विभाग में स्पेशल सेक्रेटरी के पद पर तैनात थे। सुहास एलवाई की पहली पोस्टिंग आगरा में बतौर असिस्टेंट कलेक्टर हुई थी।

यह भी पढ़ें: ‘सीजफायर’ ले डूबी डीएम को, एसटीएफ है योगी की ‘तीसरी-आंख’

खेल के मैदान में भी मनवा चुके हैं लोहा-

कर्नाटक जिले के शिमोगा जिले के मूल निवासी सुहास एलवाई को साल 2016 में उत्तर प्रदेश के सबसे बेहतरीन सिविल सर्वेन्ट के खिताब से गवर्नर ने नवाजा था। सुहास एलवाई एक बेहतरीन शटलर भी हैं। सुहास एलवाइ बैडमिंटन के पेशेवर पैरालंपिक खिलाड़ी भी हैं। उन्होंने राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में पदक जीते हैं। 2016 में चीन में आयोजित एशियन चैंपियनशिप में मैंस सिंगल में उन्होंने स्वर्ण पदक जीता था। इसके अलावा तुर्की में 2017 में आयोजित बीडब्ल्यूएफ टर्किस ओपन पैरा बैडमिंटन चैंपियनशिप के सिंगल व डबल मुकाबले में भी स्वर्ण, जबकि 2019 में सिंगल में भी स्वर्ण जीता था।

यह भी पढ़ें: नोएडा के डीएम बीएन सिंह हटाए गए

यश भारत सम्मान भी पा चुके हैं आईएएस अफसर-

2018 में वाराणसी में आयोजित नेशनल पैरा बैडमिंटन चैंपियनशिप 2018 में भी स्वर्ण पदक जीता था। सुहास एलवाइ को उत्तर प्रदेश सरकार ने 2016 में यश भारती नागरिक सम्मान से भी नवाजा था। इनकी पत्नी भी पीसीएस अफसर है।

यह भी पढ़ें: योगी ने तेजतर्रार IAS अफसर सुहास एलवाई को बनाया नोएडा का डीएम

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More