काशी की सड़कों पर चेकिंग अभियान, एसएसपी ने संभाली कमान

0 205

वाराणसी। अयोध्या में रामजन्म भूमि पूजन के साथ ही काशी की सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई। काशी के चप्पे-चप्पे पर मंगलवार की रात से ही चेकिंग अभियान शुरु हुआ जो बुधवार तक चलता रहा। दरअसल इस कार्यक्रम को लेकर खुफिया एजेंसियों के अलर्ट जारी किया था। जिसके बाद अयोध्या के साथ ही काशी में भी सुरक्षा-व्यवस्था चौकस कर दी गई।

चौराहों पर सुबह से ही चेकिंग अभियान

शहर के प्रमुख चौराहों पर जबरदस्त चेकिंग अभियान चलाया गया। बाहर से आने वाले वाहनों की तलाशी ली गई। इस दौरान सैकड़ों गाड़ियों का चालान भी काटा गया। एसएसपी अमित पाठक ने गंगा घाटों पर सुरक्षा व्यवस्था को परखा। तो सड़कों पर क्षेत्राधिकारी और थानाध्यक्ष डटे रहे। दरअसल 492 वर्षों के इतिहास के बाद बुधवार को राम अयोध्या में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने श्रीराम जन्म भूमि पर बनने वाले भव्य मंदिर का भूमि पूजन किया। इसी के साथ उनका नाम मंदिर के इतिहास में स्वर्णिम इतिहास में लिख गया। इस भूमि पूजन कार्यक्रम पर आतंकी साये के खुफिया एजेंसियों के अलर्ट के बाद प्रदेश के प्रमुख तीर्थस्थलों पर अलर्ट घोषित किया गया था।

सड़कों पर डटे रहे मातहत

महादेव की नगरी काशी को भी अलर्ट पर रखा गया था। मंगलवार से ही जनपद में चौकसी बरती जा रही थी। जनपद के सभी बॉर्डर्स पर सघन चेकिंग अभियान चलाया जा रहा था। इसी क्रम में बुधवार की सुबह भी शहर में जगह जगह वृहद् चेकिंग अभियान चलाया गया तो कमिश्नर दीपक अग्रवाल, आईजी रेंज विजय सिंह मीणा, एसएसपी अमित पाठक, एसपी सिटी विकास चंद्र त्रिपाठी और एडीएम सिटी गुलाबचंद ने शहर के गोदौलिया, काशी विश्वनाथ मंदिर, दशाश्वमेध घाट और मुस्लिम बाहुल इलाकों में निरीक्षण कर मातहतों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें: अयोध्या में भूमि पूजन के बाद जश्न में डूबी काशी, कहीं उतारी गई आरती तो कहीं बंटे लड्डू

यह भी पढ़ें: अयोध्या में श्रीराम के आगमन पर अक्षरा सिंह ने गाया गाना ‘स्वागत है श्री राम का’

यह भी पढ़ें: अनलॉक 3.0 में आज से खुले जिम, मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ मानने होंगे ये नियम

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।) 

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More