अस्थि विसर्जन (Asthi Visarjan) के लिए स्पेशल स्पीड पोस्ट सर्विस, लाइव देख सकेंगे कर्मकांड

अस्थि विसर्जन को आसान बनाने भारतीय डाक विभाग ने लगाई जुगत, परिजन को शुद्ध गंगा जल भी मिलेगा

0 215

कोरोना वायरस महामारी ने लोगों के जीवन से लेकर मरण तक जुड़े सभी विधानों को प्रभावित किया है. इस कड़ी में लोगों की परेशानियों को देखते हुए डाक विभाग ने अस्थि विसर्जन (Asthi Visarjan) के लिए खास सेवा शुरू की है.

सेवा सभी के लिए

भारतीय डाक विभाग अब सामान्य या कोरोना से मृत्यु के उपरांत भी अस्थियों का विधि-विधान से विसर्जन करने की सेवा नागरिकों को प्रदान करेगा.

इस सेवा में प्रत्येक नागरिक अपने दिवंगत परिजन का अस्थि विसर्जन (Asthi Visarjan) भारतीय डाक विभाग की स्पीड पोस्ट सर्विस के माध्यम से कर सकेंगे.

इन तीर्थों के विकल्प

स्पीड पोस्ट के जरिये अस्थि विसर्जन (Asthi Visarjan) के लिए चार तीर्थों की स्पीड पोस्ट स्वीकार होगी. प्रेषक अस्थियों को वाराणसी, प्रयागराज, हरिद्वार एवं गया तीर्थ भेज सकेगा.

इस बारे में पढ़ने क्लिक/टच करें –आयकर रिटर्न दाखिला प्रक्रिया अब और आसान, जानिये कहां मिलेंगे कितने फायदे

यह संस्था करेगी विसर्जन

स्पीड पोस्ट के माध्यम से अस्थि विसर्जन (Asthi Visarjan) करने की सेवा के लिए भारतीय डाक विभाग ओम दिव्य दर्शन संस्था का सहयोग लेगी. यह संस्था स्पीड पोस्ट से प्राप्त होने वाली अस्थियों को पंडितों के द्वारा संपूर्ण कर्मकांड के साथ विसर्जित करवाएगी.

कोरोना की समस्या

कोरोना महामारी के कारण लागू लॉकडाउन और स्थानीय यात्रा प्रतिबंधों की वजह से कई लोग अपने दिवंगत परिजनों का विधिवत अस्थि विसर्जन कराने में असमर्थ रहे हैं. ऐसे में यह युक्ति कारगर साबित हो सकती है.

इन्होंने की पहल

डाक निदेशक व वाराणसी सर्किल के पोस्ट मास्टर जनरल कृष्ण कुमार यादव ने इस सामाजिक सेवा की पहल की है. इसमें सामाजिक-धार्मिक संस्था ओम दिव्य दर्शन के सदस्य भी हाथ बंटाएंगे.

पूरे देश में लागू

भारतीय डाक विभाग देश के किसी भी कोने से अस्थि विसर्जन (Asthi Visarjan) से जुड़ी स्पीड पोस्ट स्वीकार करेगा. डाकघरों के माध्यम से स्पीड पोस्ट के जरिये अस्थि विसर्जन के लिए भेजी जा सकेगी.

विभाग से जुड़े एक अधिकारी के अनुसार कोरोना संक्रमित मृतकों की अस्थियों के विसर्जन के लिए शुरु की गई इस सेवा को फिलहाल चार तीर्थों के लिए आरंभ किया गया है. भविष्य में इसमें जरूरत के हिसाब से बदलाव किए जाएंगे.

अस्थि विसर्जन के पंजीकरण का तरीका

अस्थि विसर्जन (Asthi Visarjan) सेवा से जुड़ने के लिए संबंधित प्रेषक को ओम दिव्य दर्शन संस्था के पोर्टल htpp://omdivyasdarshan.org पर पंजीकरण कराना होगा.

संस्था के बारे में जानने लिंक पर जाएं – omdivyasdarshan.org

इस खास सर्विस में केवल पंजीकृत व्यक्ति को अस्थियों का पैकेट स्पीड पोस्ट से भेजने के लिए वाराणसी, प्रयागराज, हरिद्वार और गया का विकल्प मिलेगा.

अस्थियों के लिफाफे पर संस्था का नाम स्पष्ट शब्दों में अंकित कर संबंधित प्रेषक को अपना पूरा नाम, पता, मोबाइल नंबर आदि जानकारियां दर्शानी होंगी एवं नियत शुल्क चुकाना होगा.

स्पीड पोस्ट की बुकिंग के बाद प्रेषक को संस्था के पोर्टल पर स्पीड पोस्ट का बार कोड एवं बुकिंग विवरण भी अपडेट करना होगा. पूरी खानापूर्ति के बाद डाक विभाग डाक को ओम दिव्य दर्शन के पते पर भेजेगा.

संस्था भेजेगी गंगाजल

डाक मिलने के बाद दिव्य दर्शन संस्था अस्थि का विधिवत विसर्जन कर श्राद्ध करवाएगी. इस सेवा की एक खास बात यह भी है कि; अस्थि विसर्जन की डाक भेजने वाला इस कर्मकांड को वेबकास्ट के जरिए लाइव भी देख सकेगा. साथ ही संस्था स्पीड पोस्ट से अस्थि विसर्जन डाक भेजने वाले को डाक के जरिये गंगा जल भी भेजेगी.

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More