फुटबॉल मैच में पुतलों की जगह सेक्स डॉल्स?

बवाल मचा तो क्लब ने माफी मांगकर डाल्स को हटाया

0 249
सियोल। साउथ कोरिया South Korea में एक ऐसी घटना हुई कि सहसा लोगों ने विश्वास नहीं किया।

South Korea में एक फुटबॉल क्लब को उस समय शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा जब उसने मैच के दौरान खाली स्टैंड को भरने के लिए जिन पुतलों का इस्तेमाल किया वे सेक्स डॉल्स निकलीं। जिसका लोगों ने जमकर विरोध किया और South Korea के इस क्लब को माफी मांगनी पड़ी।

सीटें भरने के लिए उपयोग

एफसी सोल, South Korea का एक फुटबॉल क्लब है। इस क्लब ने खाली स्टेडियम में हो रहे एक मैच में सीटें भरने के लिए दर्शकों के स्थान पर मैनिक्यूइन (पुतले) रखे। लेकिन बाद में पता चला कि वे पुतले नहीं बल्कि सेक्स डॉल्स हैं। के-लीग फुटबॉल क्बल ने इसके लिए बाद में माफी भी मांगी। दरअसल, इस हरकत की सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचना हो रही थी।

10 डॉल्स रखी थी

खाली स्टेडियम को भरने के लिए टीम के खिलाड़ियों के आदमकद कटआउट के सामने 10 डॉल्स रखीं थीं। लेकिन फैंस को यह समझने में देर नहीं लगी कि ये पुतले दरअसल, सेक्स डॉल्स की तरह ज्यादा लग रहे हैं।

सोशल मीडिया यूजर्स ने यह बात नोटिस की इन डॉल्स के हाथ में बीजे चाएरो लिखे पोस्टर्स हैं, जिसके बारे में कहा जाता है कि वह डॉल्स के डिजाइन के पीछे की प्रेरणा है।

फैंस से मांगी माफी

एफसी सोल ने इसके लिए सप्लायर को जिम्मेदार ठहराया है। क्लब की ओर से कहा गया, ‘हम फैंस से माफी मांगना चाहेंगे। हमें इसके लिए काफी शर्मिंदा हैं। इस मुश्किल वक्त में हम माहौल को हल्का रखना चाहते थे। हमें इस बारे में गंभीरता से विचार करना होगा कि जो हुआ ऐसा दोबारा न हो।’

South Korea में फुटबॉल चालू

South Korea में फुटबॉल लौट आया है। डिफेंडिंग चैंपियन जॉनबक मोटर्स ने सुवॉन ब्लूविंग्स को 1-0 से हराया था। स्टेडियम में फैंस को जाने की इजाजत नहीं है। 2002 वर्ल्ड कप के लिए तैयार किए गए कई स्टेडियम्स की क्षमता 40 हजार तक है।

दुनियाभर में फुटबॉल नहीं हो रहा है और ऐसे में के-लीग ने अंतरराष्ट्रीय प्रसारण अधिकार 10 से ज्यादा देशों में भेजे हैं। जर्मनी में बुंदसलीगा की शुरुआत भी इसी सप्ताह हुई है।

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन में जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आईं अंजना सिंह

यह भी पढ़ें: किसको धमका रहीं भोजपुरी सिनेमा की हॉट केक अंजना सिंह ?

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More