पाकिस्तान में शशि थरूर ने भारत को दिखाया नीचा ! भड़की भाजपा, मचा बवाल

0 231

कांग्रेस सांसद शशि थरूर के लाहौर लिटरेचर फेस्टिवल में वर्चुअल संबोधन पर अब देश में हंगामा मच गया है। शशि थरूर ने पाकिस्तान के मंच से भारत को कोरोना से लड़ाई में फेल बताया तो भाजपा ने इसे देश को बदनाम करने की कोशिश करार दे दिया।

भाजपा ने तंज कसते हुए कहा है कि भारत से शशि थरूर इमरान खान की रैली को संबोधित कर रहे हैं। यहां पर अनुच्छेद 370 फिर से आ जाए जो इमरान खान चाहते हैं वही पी. चिदंबरम कह रहे हैं। आखिर ये क्या हो रहा है?

संबित पात्रा ने सुनाई खरी खोटी-

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने पार्टी मुख्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस कर कहा, शशि थरूर ने भारत का मजाक उड़ाया है और भारत को एक खराब परिदृश्य में दिखाने की कोशिश की है। शशि थरूर कहते हैं कि भारत की सरकार कोविड के मैनेजमेंट में कहीं कहीं फेल हो रही है। भारत की मीडिया पोल के जरिए दिखा रही है कि जनता-जनार्दन मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से संतुष्ट है।

संबित पात्रा ने कहा कि कोविड को लेकिर पूरा विश्व देख रहा है कि भारत को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किस प्रकार से सुरक्षित रखा, समय से लॉकडाउन हुआ, किस प्रकार 80 करोड़ लोगों को खाद्यान्न पहुंचाने का काम किया गया जो आगे छठ पूजा तक चलता रहेगा।

लाहौर में दिए बयान से मचा बवाल-

संबित पात्रा ने कहा, 50 देशों को हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन पहुंचाने का काम मोदी सरकार ने किया। इन सभी के बावजूद इस प्रकार का स्टेटमेंट देना कि भारत सरकार फेल हो गया है, वह भी लाहौर में। आप सोचिए कि किस प्रकार की मन:स्थिति कांग्रेस और राहुल गांधी के मित्र शशि थरूर की है?

पात्रा ने कहा, सोनिया गांधी, राहुल, प्रियंका और शशि थरूर से हम पूछना चाहते हैं कि एक बार भी आपने पाकिस्तान से पूछने की हिम्मत की कि पाकिस्तान किस प्रकार से कट्टरता दिखाता है, किस प्रकार से अपने अल्पसंख्यकों के प्रति हिंसा और अराजकता दिखाता है।

यह भी पढ़ें: संबित पात्रा के खिलाफ दर्ज होगी FIR

यह भी पढ़ें: दिल्ली : खतरनाक प्रदूषण पर शशि थरूर ने ली चुटकी

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More