रोहित सरदाना : पत्रकारिता के ‘दंगल’ में इन्हें नहीं दे सकता कोई मात !

0 466

भारत के बेहतरीन एंकरों की बात हो और रोहित सरदाना का नाम न आए, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। रोहित सरदाना भारत के सबसे ज़्यादा पसंद किए जाने वाले एंकर हैं।

रोहित एक भारतीय पत्रकार, एडिटर, कॉलम्निस्ट, न्यूज़ एंकर और मीडिया की जानीमानी हस्ती हैं। डेढ़ दशक के अपने करियर में रोहित ने ईटीवी, सहारा और जी न्यूज में अपने विशेष तेवरों वाली एंकरिंग से हिंदुस्तान के कोने कोने में अपने नाम का परचम लहराया।

रोहित सरदाना की कई ऐसी स्टोरीज रहीं जिन्होनें देश की खबरों का एजेंडा सेट किया, जिनमें से ख़ास रहीं जेएनयू में देश विरोधी नारे, कश्मीर में हुर्रियत नेताओं का पाकिस्तान का फंड कनेक्शन, पं. बंगाल के मालदा और धूलागढ़ की सांप्रदायिक हिंसा, कैराना के पलायन का सच और तीन तलाक के खिलाफ एक सामाजिक आंदोलन की शुरुआत शामिल है।

2014 में लोकसभा चुनावों के पहले सांसदों का लेखाजोखा कार्यक्रम बनाया जो मील का पत्थर है। आम चुनाव हों या राज्यों के चुनाव हर राज्य में घूम-घूम कर स्पष्ट और सटीक रिपोर्टिंग के साथ लोगों के मन की बात जानी।

रोहित ने अपने पोस्ट ग्रेजुएशन के दौरान कुछ न्यूज़ पेपर्स के लिए आर्टिकल्स, लेटर्स भी लिखे। हिसार, हरियाणा से पत्रकारिता की पढ़ाई करने वाले रोहित के नाम हिंदी पत्रकारिता का प्रतिष्ठित गणेश शंकर विद्यार्थी पुरस्कार भी है।

रोहित जी चैनल पर डिबेट कार्यक्रम ताल ठोक के होस्ट करते थे। इसके बाद 2017 में रोहित आजतक से जुड़े और अब वो डिबेट शो दंगल को होस्ट करते हैं।

View this post on Instagram

Sahara Samay. 2004. #throwback

A post shared by Rohit Sardana (@sardana.rohit) on

यह भी पढ़ें: बेबाक बोली और निडर अंदाज, यही है न्यूज एंकर अर्पिता आर्या की पहचान

यह भी पढ़ें: तीखे सवालों से अच्छों-अच्छों की बोलती बंद कर देती हैं पयोधि शशि !

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्पडेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More