RJD यूपी में गठबंधन को समर्थन देगी: तेजस्वी यादव

लोकसभा चुनाव से पहले भाजपा को विफल करने के लिए एक साथ आये सपा और बसपा प्रमुख से अब बिहार के आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने मुलाक़ात कर महागठबंधन के कयास बढ़ा दिए हैं। बीती शाम लखनऊ पहुंचे तेजस्वी यादव ने जहां कल बसपा सुप्रीमों मायावती से मिले थे, वहीं आज पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष से अखिलेश से भी मुलाक़ात की।

अखिलेश-तेजस्वी ने की साझा प्रेस वार्ता:

तेजस्वी यादव सपा अध्यक्ष से मिलने उनके पार्टी कार्यालय पहुंचे, जिसके बाद दोनों ने साझा प्रेस वार्ता की।

इस दौरान तेजस्वी यादव ने कहा की, RJD यूपी में गठबंधन को समर्थन देगी। देश में अघोषित इमरजेंसी का माहौल है. संवैधानिक संस्थाओं को तानाशाही करके अपने फायदे के लिए चलाया जा रहा है। बेरोजगारी बढ़ी है. किसान मर रहा है। नागपुरिया कानून से देश चलाया जा रहा है। बंच ऑफ थॉट्स किताब को संविधान की जगह रखना चाहते हैं।

बिहार में लोगों को बीजेपी ने ठगा:

उन्होंने कहा, बिहार में लोगों को बीजेपी ने ठगा है। प्रधानमंत्री ने बिहार को विशेष राज्य का दर्जा नही दिया। विशेष पैकेज से एक भी पैसा अभी तक नही दिया। बीजेपी की सरकार में लिंचिंग बढ़ी है। समाज में ज़हर फैलाया जा रहा है।

गठबंधन को मिलेगा समर्थन:

तेजस्वी यादव ने ये भी कहा, आने वाले चुनाव में गठबंधन को समर्थन मिलेगा। देश में यूपी के गठबंधन का संदेश गया है। यूपी बिहार से ही केंद्र में सरकार का रास्ता जाएगा। यूपी बिहार झारखंड में बीजेपी को बहुत नुकसान होने जा रहा है।

बीजेपी से पूरे देश की जनता नाराज- अखिलेश यादव

वहीं अखिलेश यादव ने भी दौरान कहा की, सपा बसपा गठबंधन की खुशी पूरे देश में है। दिल्ली से कलकत्ता तक के लोग हमारे फैसले से खुश हैं। अखिलेश यादव ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा से पूरे देश की जनता नाराज है, बीजेपी ने किसानों को संकट में डाला, नौजवानों की नौकरी छीनी, बीजेपी ने पांच साल में हर वर्ग को धोका दिया है।

अखिलेश यादव ने कहा कि सपा-बसपा गठबंधन की खुशी पूरे देश में है। दिल्ली से कलकत्ता तक के लोग हमारे फैसले से खुश हैं। कुम्भ मेले के लिए नेताओं को भेजे गए निमंत्रण पर अखिलेश यादव ने तंज कसते हुए कहा कि कुम्भ में लोग मोक्ष के लिए आते हैं। मुख्यमंत्री योगी मोक्ष के लिए नेताओं को बुलाएं हैं। इससे पहले ऐसा कहीं नहीं सुना कि मोक्ष के लिए निमंत्रण दिया गया हो।

ज़रूर पढ़ें: तेजस्वी ने मायावती से लिया आशीर्वाद, लंच पर अखिलेश से मुलाकात