कोविड काल में अमीरों की रेव पार्टी! ट्वीट ने बताया सच

0 377

हेडिंग के इन शब्दों के साथ एक सवाल “कानून गरीबों और असहाय लोगों के लिए?” पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर ने अपने ट्वीट में किया है. साथ पोस्ट ही फोटो और वीडियो भी है. इसमें कई रईसजादे बनारस के एक होटल के कमरे में नशे में डूबते-उतराते नजर आ रहे हैं. अमिताभा ठाकुर ने बकायदा होटल का नाम भी लिखा है. इसके बाद पुलिस सक्रिय हुई पुलिस होटल पहुंची और उसके सीसीटीवी में कैद फुटेज को जब्त कर लिया है.

ये भी पढ़ें…आजमगढ़ में ताबड़तोड़ चलीं गोलियां, एक की मौत

एक्टिव हुई पुलिस

पूर्व आईपीएस अमिताभ ठाकुर के ट्वीट को संज्ञान में लेते हुए कैंट पुलिस ने मामले की तहकीकात शुरू कर दी है. वीडियो में एक होटल के कमरे में 8 से 9 लोग नजर आ रहे हैं. जो शराब के साथ अन्य नशीले पदार्थों का सेवन कर रहे हैं. एक साथ इतने लोगों का एक जगह इकट्ठा होना कोरोना गाइडलाइन का उलंघन है. साथ ही नशीले पदार्थों का सेवन भी गंभीर अपराध है. पुलिस के मुताबिक पूर्व आईपीएस के ट्वीट में जिस होटल का जिक्र है वह कैंट एरिया में है, उसकी जांच की गयी है. होटल में रूम जिसने बुक कराया था उसे भी पूछताछ के लिए बुलाया गया है. पुलिस का कहना है कि मामले में जो भी दोषी होगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें : भिखारी के कमरे से मिले नोटों से भरे 2 संदूक, रकम देख फटी रह गई लोगों की आंखें

आइना दिखा रहा ट्वीट

अमिताभ ठाकुर का ट्वीट स्थानीय पुलिस और प्रशासन को आइना दिखा रहा है. इसकी बड़ी वजह है कि कोरोना के सेकेंड वेब में हुए लाकडान की मार सबसे ज्यादा गरीब तबका झेल रहा है. बंदी की वजह से रोज खाने-कमाने वालों के घर में दो वक्त की रोटी भी मुश्किल से जुट पा रही है. एक महीने से अधिक का वक्त बीतने को हैं लेकिन बनारस पूरी तरह से अनलाक नहीं हो सका है. कुछ दुकानें तो खुल रही हैं लेकिन होटल, रेस्टोरेंट आदि बंद हैं. ऐसे में वायरल हुआ रेव पार्टी का वीडियो कई सवाल खड़े कर जाता है.

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More