राहुल को सबसे पहले जिन्होंने गोद में उठाया था, पूरी हुई उनकी खास मुराद

कांग्रसे अध्यक्ष राहुल गांधी इन दिनों वायनाड दौरे पर है। अपने इस दौरे में राहुल ने कांग्रेस की स्थानीय इकाई के नेताओं के साथ मुलाकात की। साथ ही रोड शो कर जनता का आभार व्यक्त किया। 23 मई को संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में कांग्रेस अध्यक्ष ने वायनाड सीट से जीत दर्ज की है।

इस दौरे के दौरान राहुल गांधी ने उस शख्स से मुलाकात की जिन्होंने जन्म के बाद राहुल को सबसे पहले गोद में उठाया था। राहुल ने राजम्मा वावथिल से मुलाकात की। राजम्मा वहीं नर्स हैं जो राहुल के जन्म के समय फॅमिली हॉस्पिटल में मौजूद थीं।

वायनाड निवासी राजम्मा ने उस समय राहुल गांधी से मिलने की इच्छा जाहिर की थी जब वह संसदीय क्षेत्र में नामांकन भरने गए थे। राजम्मा के मुताबिक जब राहुल ने जन्म हुआ तब वह नर्स की ट्रेनिंग ले रही थीं। उन्होंने कहा था कि वह उन लोगों में शामिल थीं जिन्होंने राहुल को गोद में उठाया था।

राजम्मा अपने परिजनों को अक्सर यह बात बताती हैं। लोकसभा चुनाव के दौरान जब राहुल गांधी की नागरिकता पर सवाल उठ रहे थे उस समय राजम्मा ने कहा था कि उन्हें आज भी वह दिन अच्छे से याद है जब राहुल का जन्म हुआ था।

उस दिन को याद कर राजम्मा बतातीं हैं कि जब सोनिया गांधी को प्रसव के लिए ले जाया जा रहा था तब राहुल के पिता राजीव गांधी और चाचा संजय गांधी बाहर इंतजार कर रहे थे। 72 वर्षीय राजम्मा ने बताया था, ‘मैं खुशनसीब थीं क्योंकि राहुल को गोद में उठाने वाली मैं पहली शख्स थी। राहुल के जन्म की मैं गवाह थी। मैं बहुत उत्साहित थीं।’

यह भी पढ़ें: जीत के बाद पहली बार वायनाड दौरे पर राहुल गांधी

यह भी पढ़ें: अपने मॉडलिंग के दिनों में ऐसी दिखती थीं स्मृति ईरानी

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)