प्रियंका गांधी ने लड़कियों का कैरेक्टर बताने वाले पुलिसकर्मी की सच्चाई की उजागर

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी ने एक बार फिर यूपी की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए एक वीडियो शेयर किया। जिसके जरिये यूपी पुलिस की कार्यशैली और पीड़ितों के प्रति उनके रवैये की हकीकत उजागर होती है। इसके साथ ही उन्होंने लिखा, ‘एक तरफ महिलाओं के खिलाफ कम नहीं हो रहे, वहीं दूसरी तरफ कानून के रखवालों का ऐसा बर्ताव…’

ये चूड़ा, अंगूठी, लॉकेट क्यों पहने हो? इतने आइटम पहनने की क्या जरूरत है? जब तुम पढ़ती नहीं हो तो ये सब पहनने की क्या जरूरत है? इससे क्या लाभ है, इसी से दिखाई दे जाता है कि तुम क्या हो। तुम लोग घर वाले हो बेटी को देखते नहीं हो क्या करती है… ये वो सवाल हैं जो एक हेड कांस्टेबल ने छेड़छाड़ की शिकायत करने पहुंची पीडिता से किये गये।

प्रियंका गांधी ने थाने का वीडियो किया ट्वीट:

इसी का वीडियो ट्वीट करते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा ने लिखा, ‘छेड़खानी की रिपोर्ट लिखवाने गई लड़की के साथ थाने में इस तरह का व्यवहार हो रहा है। एक तरफ उत्तर प्रदेश में महिलाओं के खिलाफ अपराध कम नहीं हो रहे, दूसरी तरफ कानून के रखवालों का ये बर्ताव। महिलाओं को न्याय दिलाने की पहली सीढ़ी है उनकी बात सुनना।’

ये भी पढ़ें: राजीव गांधी हत्याकांड की दोषी नलिनी श्रीहरन जेल से बाहर

क्या है मामला:

दरअसल, यूपी पुलिस के कानपुर जिले के नजीराबाद थाने में तैंनात एक हेड कॉन्स्टेबल तारबाबू ने पीड़िता के कपड़ों से उसका चरित्र बता दिया। पीडिता छेड़छाड़ की शिकायत करने पहुंची थी। इस दौरान इस पूरी घटना का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

हालाँकि इसका वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी ने आरोपी हेड कांस्टेबल को लाइन हाजिर कर दिया।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)