traffic rules

…तो इसलिए ट्रैफिक पुलिसकर्मी ने बच्चे से कहा, ‘थैंक्यू बेटा’

उत्तर प्रदेश पुलिस लोगों से ट्रैफिक नियमों का पालन और हेलमेट इस्तेमाल करने के लिए इसलिए कहती है ताकि किसी भी तरह का हादसा होने पर गंभीर चोटों से बचा जा सके। लखनऊ के नए एसएसपी ने भी राजधानी के लोगों से अपील की है कि सभी यातायात नियमों का पालने करें। उन्होंने यह भी कहा कि पुलिसकर्मी भी हेलमेट का इस्तेमाल करें। लेकिन राजधानी लखनऊ की ट्रैफिक पुलिस यातायात नियमों का पालन करने वाले एक ऐसे व्यक्ति से मिली, जिसने पुलिसकर्मियों को खुश कर दिया।

बाइक पर हेलमेट लगाकर बैठा था बच्चा

दरअसल, बीते गुरुवार को पुलिस कर्मी ने बाइक से अपने बच्चे को स्कूल छोड़ने जा रहे एक पिता को रोका। पुलिसकर्मी ने उस व्यक्ति को इसलिए रोका क्योंकि उसकी बाइक पर आगे बैठा बच्चा हेलमेट लगाए हुए था। उस बच्चे की उम्र करीब पांच साल की बताई जा रही है।

इसे कहते है एक पिता की उसके बेटे के प्रति जिम्मेदारी जो अपनी सुरक्षा के साथ साथ अपने नवजात बेटे की सुरक्षा के बारे में सोच,संस्कार,आदत को विकसित करने के परवरिस के तरीके को दर्शाता है।यह बच्चा होकर शर्तिया बिना हेलमेट लगाए गाड़ी नही चलाएगा क्योकि एसके पिता ने बचपन में ही इसकी आदत में हेलमेट लगाना डाल दिया यद्यपि कि इस बच्चे को हेलमेट के महत्व का बोध नही है।क्या हम सभी ऐसे पैत्रित्व से बंचित रहे है जो आज हममे से बहुतेरों बिना हेलमेट लगाए गाड़ी चलाते है?यदि हाँ, तो क्यो नही हम एक अच्छे पिता बनते जो उनकी गलतियों को न करे जो उनके पिता ने किया है……सोचियेगा!!!

Posted by Prem Shahi on Thursday, July 12, 2018

बच्चे की बात सुनकर पुलिसकर्मी हुए खुशी से गदगद

युवक को रोकने के बाद पुलिसकर्मी ने बच्चे से पूछा कि आपने हेलमेट क्यों पहना है? पुलिसकर्मी के इस सवाल का जवाब देते हुए बच्चे ने कहा कि मेरे पापा ने हेलमेट पहना है, इसलिए मैंने भी पहना है। बच्चे की इस बात को सुनकर पुलिसकर्मी खुशी से गदगद हो गया।

Also Read :  योगी राज में दलित युवती का रेप कर पत्थर से कूचा चेहरा

इस दौरान ड्यूटी पर तैनात ट्रैफिक सब-इंस्पेक्टर प्रेम शाही ने बच्चे से हाथ मिला और कहा कि आपके पापा दुनिया के बेस्ट पापा हैं। सब-इंस्पेक्टर प्रेम शाही ने सड़क पर इशारा करते हुए कहा काफी लोग सुबह के समय अपने बच्चों को स्कूल छोडने जाते हैं लेकिन चालक के सिवा बाइक पर पीछे बैठने वाले किसी भी व्यक्ति ने हेलमेट नहीं लगाया है।

ट्रैफिक सब-इंस्पेक्टर ने मनीष से कहा कि आपने हेलमेट लगाया है और साथ ही अपने छोटे से बच्चे को भी हेलमेट पहनाया है। यह सोच दिखाती है कि आप अपने परिवार और बच्चे के लिये कितना सोचते हैं। बस यही सोच भारत में रह रहे हर व्यक्ति में जगानी है ताकि सड़क दुर्घटना में किसी को अपनी जान न गवानी पड़े।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)