parliament budget session canceled for mamata vs cbi issue

संसद में छाया रहा ममता बनाम CBI का मुद्दा, स्थगित हुई कार्यवाही

बजट सत्र के तीसरे दिन राज्यसभा और लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा होनी थी जिसके बाद राज्यसभा में बीजेपी सांसद भूपेंद्र यादव उच्च सदन में धन्यवाद प्रस्ताव पेश करने वाले थे, वहीं लोकसभा में बीजेपी सांसद हुकुमदेव नारायण यादव सदन में धन्यवाद प्रस्ताव पेश करने वाले थे। वहीं आज सत्र के दौरान पश्चिम बंगाल की मुख्य्मंत्री ममता बैनर्जी और सीबीआई मुद्दा बना रहा।

राज्यसभा स्थगित:

राज्यसभा में टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्राईन ने 267 के तहत सीबीआई विवाद पर चर्चा के लिए नोटिस दिया। इसके अलावा मनोज कुमार झा, रामगोपाल यादव समेत विभिन्न सांसदों ने अल-अलग मुद्दों पर चर्चा के लिए नोटिस दिया है। इस मुद्दे पर राज्यसभा में जोरदार हंगामा हुआ और सभापति वेंकैया नायडू ने सदन की कार्यवाही 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

ये भी पढ़ें:  केंद्र के खिलाफ ममता का एलान-ए-जंग, इन नेताओं का मिला समर्थन

वहीं राज्यसभा की कार्यवाही दोबारा शुरू होते ही टीएमसी सांसदों ने सीबीआई के मुद्दे पर चर्चा की मांग की, जिसे सभापति नायडू ने अस्वीकार कर दिया। इसपर टीएमसी के सांसद वेल में आकर नारेबाजी करने लगे। सभापति ने इसके बाद कहा कि राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा होनी है और भी अहम मुद्दे पर चर्चा होनी चाहिए, लेकिन शायद आप लोग सदन को चलने नहीं देना चाहते हैं। यह कहते हुए सभापति ने राज्यसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी।

लोकसभा में जोरदार हंगामा:

वहीं लोकसभा में दिवंगतों को श्रद्धांजलि देने के बाद सभी सांसदों ने जॉर्ज फर्नांडिस के निधन पर शोक व्यक्त किया। लोकसभा में प्रश्न काल शुरू होते ही कांग्रेस समेत विभिन्न विपक्षी दलों ने सीबीआई के मुद्दे पर चर्चा की मांग की लेकिन स्पीकर सुमित्रा महाजन ने सांसदों को इसकी इजाजत नहीं दी। उन्होंने कहा कि प्रश्न काल के बाद इस पर चर्चा की जा सकती है। वहीं सदन में विभिन्न दलों के सांसद सीबीआई मुद्दे पर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते रहें। सदन में ‘लोकतंत्र बचाओ’ और ‘सीबीआई का दुरुपयोग बंद करो’ के नारे सुनाई देते रहे। जिसके चलते लोकसभा की कार्यवाही 12 बजे के लिए स्थगित कर दी गई।

ये भी पढ़ें:  CM योगी ने किया ‘भारत के मन की बात, मोदी के साथ’ कार्यक्रम का शुभारंभ

गृह मंत्री राज नाथ सिंह ने सीबीआई मुद्दे पर कहा:

लोकसभा में कार्यवाही 12 बजे के बाद शुरू होने पर गृह मंत्री राज नाथ सिंह ने सीबीआई मुद्दे पर कहा कि कल कोलकाता में सीबीआई अधिकारियों को उनकी ड्यूटी करने से रोका गया और ऐसी घटना देश के इतिहास में कभी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि चिटफंड घोटाले के आरोपियों को राजनीतिक संरक्षण दिया जा रहा है। गृह मंत्री ने कहा कि सीबीआई इस मामले की जांच कर रही है और इसी वजह से सीबीआई को कमिश्नर के घर जाना पड़ा। इस घोटाले में कई नामचीन और राजनीतिक लोगों के होने का पता चला है।

वहीं विपक्षी दल सीबीआई और मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करने लगे, स्पीकर की अपील का भी कोई असर होता नहीं दिखा। संसदीय कार्यमंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि सदन के भीतर राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा होनी चाहिए। स्पीकर ने कहा कि सीबीआई और ममता सरकार का मामला कोर्ट में है और ऐसे में इस पर चर्चा नहीं कर सकते। सुप्रीम कोर्ट के इस मामले में फैसला लेने दीजिए। स्पीकर ने हंगामा न थमते देख लोकसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित कर दी।

 (अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)