Owaisi

भारतीय मुस्लिमों को पाकिस्तानी कहने पर मिले कठोर सजा : ओवैसी

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन चीफ और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने मुस्लिमों के हक में एक कानून बनाए जाने की मांग की है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि भारतीय मुस्लिम को पाकिस्तान कहने पर तीन साल की सजा दिए जाने का कानून बनाया जाए। मंगलवार (6 जनवरी, 2018) को एमआईएम चीफ ने कहा कि सरकार इस मुद्दे पर बिल लाए।

‘पाकिस्तानी कहने वालों को मिले तीन साल की सजा’

लोकसभा में बोलते हुए औवेसी ने कहा, ‘ऐसा कानून बनाया जाए जिसमें किसी भी हिंदुस्तानी मुस्लिम को पाकिस्तानी कहने पर तीन साल की सजा दी जाए। लेकिन केंद्र में भाजपा की सरकार ऐसा बिल नहीं लाएगी।’ हैदराबाद सांसद ने आगे कहा कि भारत में जो मुस्लिम हैं उन्होंने मोहम्मद अली जिन्ना की दो राष्ट्र वाली थ्योरी को पूरी तरह नकारा है लेकिन आज भी हिंदुस्तानी मुस्लिम को बहारी समझा जाता है।

Also Read : एक हजार हिंदूओं का करो कत्ल…पढ़िए आखिर किसने कहा और क्यों?

खट्टर सरकार पर साधा था निशाना

गौरतलब है कि ओवैसी ने पिछले दिनों हरियाणा में कश्मीरी छात्रों से मारपीट पर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा की खट्टर सरकार में प्रशासन संवैधानिक जिम्मेदारियां निभाने में बुरी तरह फैल हुआ है। राज्य सरकार लोगों को सुरक्षा भी नहीं दे पा रही है। सूबे में दो कश्मीरी छात्रों को मस्जिद के बाहर बुरी तरह पीटा गया है।

‘सुरक्षा देने के बजाय एक विशेष विचारधारा पर काम कर रही है खट्टर सरकार’

ओवैसी ने तब आगे कहा था, ‘मैं छात्रों के साथ हुई मारपीट की कड़ी निंदा करता हूं। कश्मीर भारत का अभिन्न अंग हैं और हमेशा यह भारत का ही रहेगा। ऐसे में हम कश्मीरी लोगों को क्या संदेश दे रहे हैं? उनपर हमला करने वाले लोग कौन हैं? हरियाणा सरकार लोगों को सुरक्षा देने के बजाय एक विशेष विचारधारा पर काम कर रही है।’

(साभार- जनसत्ता)

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)