mulayam

मुलायम सिंह यादव ने अपने आवास में पुस्तकालय खोलने की अनुमति मांगी

अखिलेश ‘होटल’ तो मुलायम सिंह चलाएंगे लाइब्रेरी

सपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव होटल बिजनेस में अपनी किस्मत आजमाने जा रहे हैं तो उनके पिता मुलायम सिंह यादव ने भी राजनीति के अलावा पुस्तकालय खोलने का मन बना लिया है। दरअसल, मुलायम सिंह यादव ने अपने आवास में पुस्तकालय खोलने की अनुमति मांगी है।

कई मंत्री हैं जो राजनीति के साथ साथ कई बिजनेस करते है

राजनीति में विपक्ष को नाको चने चबवाने वाले अखिलेश अब होटल संभालेंगे। वे पत्नी डिंपल यादव के साथ भागीदारी करके बिजनेस करेंगे। साथ ही मुलायम सिंह यादव भी पुस्तकालय खोलने की तैयारी कर रहे हैं। सपा परिवार ही नही ऐसे कई मंत्री हैं जो राजनीति के साथ साथ कई बिजनेस करते है।

आवास में पुस्तकालय बनाने की मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं

इसी क्रम में सपा परिवार भी शामिल हो गया है। अखिलेश अपनी पत्नी के साथ मिलकर होटल व्यवसाय करने जा रहे है तो मुलायम सिंह यादव भी अपना खाली समय को प्रयोग करते हुए अपने आवास में पुस्तकालय बनाने की मंजूरी का इंतजार कर रहे हैं।

Also Read :  राजनीति के बाद ‘होटल बिजनेस’ में कूदे अखिलेश

आपको बता दें कि अखिलेश यादव अपनी पत्नी के साथ मिलकर होटल व्यवसाय करने जा रहे हैं । इसके लिए अखिलेश ने एलडीए से अनुमति मांगी थी। अखिलेश यादव ने लखनऊ के हजरतगंज में ए विक्रमादित्य मार्ग पर हेरिटेज होटल का निर्माण कराने के लिए अनुमति मांगी थी।

लखनऊ विकास प्राधिकरण से मैप के लिए अप्लाई किया है

1-ए विक्रमादित्य मार्ग की खाली पड़ी जमीन अखिलेश ने पत्नी डिंपल के साथ मिलकर खरीदी थी।अखिलेश इस जमीन पर हेबिकस हेरिटेज नामक होटल खोलने जा रहे हैं। इसके लिए लखनऊ विकास प्राधिकरण से मैप के लिए अप्लाई किया है। एलडीए की आपत्ति के बाद संशोधित मैप भी जमा कर दिया है।

सपा की तरफ से आई थी सफाई

सपा विधायक आनंद भदौरिया ने अखिलेश के होटल बनाए जाने वाली खबरों पर सफाई देते हुए कहा है कि ये इन्स्टीट्यूशनल लैंड हैं, यह एक विशिष्ट अतिथि गृह है इसे होटल ना समझें।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)