छिन सकती है मुख्तार अंसारी की विधायकी, योगी सरकार के मंत्री ने दिए संकेत

0 432

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के विधायक और माफिया डॉन मुख्तार अंसारी की उप्र की विधानसभा में सदस्यता खत्म करने की तैयारी कर रही है। अंसारी मऊ विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं।

मुख्तार अंसारी की रद्द हो सकती है विधानसभा सदस्यता

यूपी के संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना ने संवाददाताओं से कहा कि इस मामले में कानूनी राय ली जा रही है। उन्होंने कहा, “यदि कोई सदस्य 60 दिनों से ज्यादा समय तक सदन से अनुपस्थित रहता है, तो उस स्थिति में नियमों के अनुसार उसकी सदस्यता को रद्द किया जा सकता है। यदि कोई उनकी सदस्यता रद्द करने के लिए याचिका दायर करता है, तो सरकार आगे की कार्रवाई को लेकर फैसला करेगी।”विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने भी कहा है कि यह मामला विचाराधीन है।

2005 से जेल में है मुख्तार अंसारी

बता दें कि अंसारी को जबरन वसूली के मामले में जनवरी 2019 से पंजाब की रूपनगर जेल में रखा गया था और सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बुधवार को उसे बांदा जेल वापस लाया गया था। वैसे तो वह अक्टूबर 2005 से जेल में है, लेकिन अदालत की अनुमति से वह विधायी कार्यवाही में भाग लेता रहा है। इतना ही नहीं अंसारी ने जेल में रहते हुए 2007, 2012 और 2017 में चुनाव भी जीते हैं।

यह भी पढ़ें- पूरा हो सकता है वर्दी पहनने का आपका सपना, योगी सरकार ने किया बड़ा ऐलान

हालांकि, योगी आदित्यनाथ सरकार ने सत्ता में आने के बाद जेल में बंद विधायकों के विधायी कार्यवाही में भाग लेने की अनुमति देने के कदम का कड़ा विरोध किया था।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप डेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More