सेंसेक्स 36600 के नीचे हुआ बंद, 10768 पर निफ्टी

0 172

घरेलू शेयर बाजार में कारोबारी सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिला और पूरे सत्र के दौरान बिकवाली का दबाव बना रहा, जिसके चलते सेंसेक्स 143 अंक फिसलकर 36600 से नीचे बंद हुआ और निफ्टी में भी 45 अंकों की गिरावट रही। सेंसेक्स पिछले सत्र से 143.36 अंकों यानी 0.39 फीसदी की कमजोरी के साथ 36,594.33 पर बंद हुआ जबकि निफ्टी 45.40 अंकों यानी 0.42 फीसदी फिसलकर 10,768.05 पर ठहरा।

182.56 अंकों की गिरावट के साथ खुला सेंसेक्स

बंबई स्टॉक एक्सचेंज यानी बीएसई के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 182.56 अंकों की गिरावट के साथ 36,555.13 पर खुला और 36,401.11 तक लुढ़का, जबकि दिनभर के कारोबार के दौरान सेंसेक्स का ऊपरी स्तर 36748.89 रहा।

Sensex

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज यानी एनएसई के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी भी पिछले सत्र के मुकाबले 55.65 अंक फिसलकर 10,764.10 पर खुला और 10713 तक टूटा जबकि निफ्टी का ऊपरी स्तर 10819.40 रहा।

0.72 फीसदी की गिरावट के साथ बंद

बीएसई मिडकैप सूचकांक 96.64 अंकों यानी 0.72 फीसदी की गिरावट के साथ 13,396.83 पर बंद हुआ, जबकि स्मॉलकैप सूचकांक पिछले सत्र से 44.46 अंकों यानी 0.35 फीसदी की कमजोरी के साथ 12,803.78 पर ठहरा।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से नौ शेयरों में तेजी रही जबकि 21 शेयर गिरावट के साथ बंद हुए। सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में रिलायंस (2.95 फीसदी), सनफार्मा (2.36 फीसदी), हिंदुस्तानलीवर (2.22 फीसदी), भारती एयरटेल (1.03 फीसदी) और टीसीएस (0.78 फीसदी) शामिल रहे।

Sensex

सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में एक्सिस बैंक (3.14 फीसदी), एक्सिस बैंक (3.13 फीसदी), टाइटन (3.01 फीसदी), एचडीएफसी (2.87 फीसदी) और आईसीआईसीआई बैंक (2.75 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के 19 सेक्टरों में आठ सेक्टरों में तेजी रही जबकि 11 सेक्टरों के सूचकांक गिरावट के साथ बंद हुए। सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच सेक्टरों में उर्जा (2.29 फीसदी), टेलीकॉम (0.75 फीसदी), रियल्टी (0.67 फीसदी), हेल्थकेयर (0.67 फीसदी), और एफएमसीजी (0.56 फीसदी) शामिल रहे।

सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों में बैंक इंडेक्स (2.22 फीसदी), वित्त (1.95 फीसदी), कंज्यूमर ड्यूरेबल्स (1.81 फीसदी), कैपिटल गुड्स (1.08 फीसदी), और युटिलिटीज (1.07 फीसदी) शामिल रहे।

यह भी पढ़ें: सोशल मीडिया ने पहले ही कर दिया था विकास दुबे का एनकाउंटर !

यह भी पढ़ें: विकास एनकाउंटर मामला पहुंचा मानवाधिकार आयोग, जांच की मांग…

यह भी पढ़ें: कानपुर शूटआउट : ऐसी कार्रवाई करेंगे कि पछताएंगे आरोपी – ADG

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्पडेलीहंट या शेयरचैट इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More