Pakistan

पाकिस्तान: आर्मी हेडक्वार्टर के बाहर लगे आईएसआई मुर्दाबाद के नारे

पाकिस्तान में 25 जुलाई को होने वाले आम चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो गई है। जहां एक ओर सभी दल एक-दूसरे पर जमकर बयानबाजी कर रहे हैं, वहीं आम चुनाव में फौज और खुफिया एजेंसियों को भी खींचा जा रहा है। फौज पर जहां एक विशेष दल को मदद करने का आरोप लगाया गया है वहीं खूफिया एजेंसी आईएसआई के लिए मुर्दाबाद के नारे लगाए जा रहे हैं।

आर्मी हेडक्वॉर्टर के बाहर लगाए गए मुर्दाबाद के नारे

रविवार को पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) पार्टी के समर्थकों ने रावलपिंडी में आर्मी हेडक्वॉर्टर के बाहर देश की खुफिया एजेंसी आईएसआई के खिलाफ जमकर मुर्दाबाद के नारे लगाए। प्रदर्शनकारियों ने आरोप लगाया है कि आम चुनाव में आईएसआई खेल कर रही है और यह चुनाव फिक्स है।

Also Read : बांसुरी बजाते नजर आएं तेज प्रताप यादव

बता दें कि इससे पहले आम चुनाव के दौरान आईएसआई के खिलाफ इस तरह से खुले तौर पर नारेबाजी शायद ही कभी पाकिस्तान में सुनने और देखने को मिली होगी। सेना के मुख्यालय के बाहर खड़े पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के समर्थकों ने ‘आईएसआई मुर्दाबाद और यह जो दहशतगर्दी है उसके पीछे वर्दी है’ जैसे नारे लगाए।

पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार….

बलोच नैशनल मूवमेंट के प्रेजिडेंट जफर बलोच ने ट्वीट किया, ‘पाकिस्तान की सड़कों पर खुलेआम लोगों ने आईएसआई के खिलाफ नारेबाजी की। सेना और उसकी खुफिया एजेंसी ISI के खिलाफ यह असंतोष पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार देखने को मिला है।’

Also Read : प्रधानमंत्री ने इन लोगों को दिया संडे गिफ्ट

बता दें कि इससे पहले इस्लामाबाद हाई कोर्ट के जस्टिस शौकल सिद्दीकी भी न्यायपालिका और मीडिया पर नियंत्रण की कोशिशों को लेकर आईएसआई को आड़े हाथों ले चुके हैं। उन्होंने बार एसोसिएशन को संबोधित करते हुए कहा था कि आईएसआई अपने अनुकूल फैसलों के लिए लगातार न्यायपालिका पर दबाव बना रही है। इनमें नवाज शरीफ का केस भी शामिल है। आईएसआई नहीं चाहती कि नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज 25 जुलाई को होने जा रहे चुनावों से पहले जेल से बाहर आएं।

सेना इमरान खान के हक में बना रही माहौल

पाकिस्तानी सेना पर भी आरोप लग रहे हैं कि वह राजनेता इमरान खान के पक्ष में माहौल बना रही है। इसके लिए पीटीआई चीफ इमरान के सबसे बड़े प्रतिद्वंद्वी नवाज शरीफ की खबरों को मीडिया कवरेज तक नहीं दी जा रही है।

Also Read :  अच्छा कार्य करने वाले पुलिसकर्मियों के साथ DGP ने किया लंच

पाकिस्तान के सबसे लोकप्रिय चैनल जियो टीवी को नवाज शरीफ की गिरफ्तारी के बाद उनके समर्थकों ने बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन किया लेकिन इसकी कवरेज नहीं करने दी गई। इसकी जगह टीवी चैनल पर इमरान खान की रैली और उनके अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर के हाइलाइट्स दिखाए गए।

(साभार- अमर उजाला)

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)