फिर मजदूरों का खून बहा सड़कों पर, बिहार में 9 प्रवासी हादसे में मारे गये

Iron rods से लदे एक ट्रक ने बस को टक्कर मार दी

0 295
भागलपुर : प्रवासी मजदूरों के खून से सड़कों का लाल होना जारी है और अब Iron rods से लदी ट्रक-बस टक्कर में नौ लोग असमय काल कवलित हो गये।

मजदूर Iron rods लदे ट्रक पर सवार थे

बिहार के भागलपुर जिले के खरीक थाना क्षेत्र में मंगलवार की सुबह एक बस और ट्रक की टक्कर में नौ प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई। मृतक मजदूर सरिया Iron rods लदे ट्रक पर सवार थे।

ट्रक ने बस को टक्कर मारी

पुलिस के मुताबिक, एक बस दरभंगा से बांका जा रही थी, इसी दौरान खरीक के अंभो चौक के पास विपरीत दिशा से आ रहे लोहे के Iron rods से लदे एक ट्रक ने बस को टक्कर मार दी और ट्रक सड़क के किनारे बने बड़े गड्ढे में पलट गई। ट्रक पर लदे लोहे के सरिया के ऊपर कई मजदूर बैठे थे, जो ट्रक पलटने के बाद लोहे के सरिया के नीचे दब गए हैं। इस घटना में नौ प्रवासी मजदूरों की मौत हो गई।

सभी सरिया के नीचे दब गये थे

नौगछिया के अनुमंडल पदाधिकारी मुकेश कुमार ने बताया कि जानकारी मिलते ही कई इलाकों की पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और जेसीबी मशीन की मदद से लोहे की Iron rods से लदे एक ट्रक ने बस को टक्कर मार को हटाया गया। उन्होंने बताया कि इस घटना में नौ मजूदरों की मौत हुई है। अब किसी शव के सरिया Iron rods से लदे एक ट्रक ने बस को टक्कर मार के नीचे दबे होने की संभावना नहीं है।

मृतकों की पहचान नहीं

उन्होंने बताया कि मृतकों की पहचान अब तक नहीं हो पाई है। घटनास्थल पर मृतकों के मिले आधार कार्ड के आधार पर ये सभी पूर्वी चंपारण के रहने वाले बताए जा रहे हैं।

कुमार ने संभावना जताते हुए कहा कि ट्रक पर सवार सभी प्रवासी मजदूर साइकिल से कहीं जा रहे होंगे और रास्ते में वे ट्रक पर सवार हो गए। घटनास्थल पर साइकिल भी पड़ी मिली है।

ट्रक का चालक फरार

इस हादसे में बस पर सवार 4 लोग भी घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल भेज दिया गया है। ये सभी लोग खतरे से बाहर बताए जा रहे हैं। घटना के बाद ट्रक का चालक फरार है।

यह भी पढ़ें: योगी’ ने ‘प्रियंका’ की 1 हजार बसों को दी हरी झंडी

यह भी पढ़ें: कोरोनावायरस वैक्सीन आने की नहीं कोई गारंटी : ब्रिटिश पीएम

-Adv-

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं। अगर आप हेलो एप्प इस्तेमाल करते हैं तो हमसे जुड़ें।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More