Nawaz Sharif

नवाज शरीफ के लाइव भाषण पर लगेगी रोक

बुधवार को इस्लामाबाद हाइ कोर्ट ने पूर्व पीएम नवाज शरीफ(Nawaz Sharif) के लाइव भाषणों को बैन करने की मांग वाली याचिका पर सुनवाई की मंजूरी दे दी। इस याचिका में नवाज शरीफ द्वारा साल 2008 के मुंबई धमाकों को लेकर दिए गए बयान पर आपराधिक केस दर्ज करने की भी मांग की गई है।

दायर की गई याचिका

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के नेता और वकील बाबर अवन ने स्थानीय वकीलों की मर्जी से यह याचिका दायर की है। रिपोर्ट के मुताबिक, याचिका में कहा गया है कि 3 मई को शरीफ(Nawaz Sharif) ने जवाबदेही कोर्ट के सामने राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी कुछ गोपनीय जानकारियों का खुलासा करने की धमकी दी।

नवाज शरीफ के भाषण पर रोक लगा सकती है कोर्ट ?

याचिका में कोर्ट से दरख्वास्त की गई है कि वह फेडरल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (FIA) को शरीफ के खिलाफ कानूनी प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दे। इस याचिका के संबंध में जस्टिस आमिर फारुख ने FIA के डायरेक्टर जनरल, पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेग्युलेटरी अथॉरिटी (Pemra) और पाकिस्तान टेलिकम्युनिकेशन अथॉरिटी (PTA) से जवाब मांगा है। जज ने पूछा है कि क्या कोर्ट इस तरह किसी के भाषण पर बैन लगा सकती है।

Also Read : पैसा कमाने के लिए महिला करती है ये घिनौना काम

नवाज ने मुंबई अटैक में पाकिस्तान का हाथ होने की कही थी बात

बता दें कि बीते हफ्ते ‘डॉन’ के साथ एक इंटरव्यू में नवाज शरीफ ने पहली बार स्वीकार किया था कि मुंबई अटैक में पाकिस्तान का हाथ था और उनके देश में आतंकी संगठन सक्रिय हैं, जिसके बाद से देश राजनीतिक उठापटक जारी है।

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)