नेताओं के बिगड़े बोल पर SC की चुनाव अयोग को फटकार, मांगा जवाब

नेताओं के विवादित बयानों पर सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को फटकार लगाई है। सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग से कहा कि आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले नेताओं पर तुरंत हो कार्रवाई। साथ ही कोर्ट ने चेतावनी दी कि नेताओं के भाषण में जाति-धर्म का ना हो इस्तेमाल।

विवादास्पद बयानों को लेकर कोर्ट ने चुनाव अयोग को लेकर कड़ी नाराजगी जताई। चुनाव अयोग को आड़े हाथ लेते हुए न्यायालय ने पूछा कि आपको अपनी शक्ति के बारे में पता है?

नेताओं के विवादास्पद बयानों पर कार्यवाही न करने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को तलब किया। साथ ही कोर्ट ने अयोग से मंगलवार सुबह 10:30 बजे तक जवाब मांगा है।

हेट स्पीच पर SC का रुख सख्त-

सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि वह चुनावी अभियान में हेट स्पीच और सांप्रदायिक बयानबाजी करने पर चुनाव अयोग के अधिकारों की जांच करेगा।

उच्चतम न्यायालय ने कहा कि ऐसे मामलों में चुनाव अयोग केवल नोटिस और एडवाइजरी जारी कर रहा है। आयोग न तो किसी को आयोग्य करार दे रहा है और ना ही किसी पार्टी को डि रजिस्ट्रार कर रहा है।

इस मामले पर आयोग ने कोर्ट को जानकारी देते हुए कहा कि हम नोटिस दे सकते हैं, किसी को अयोग्य घोषित नहीं कर सकते। हमारे पास बहुत सीमित शक्तियां हैं।

यह भी पढ़ें: फिर बिगड़े आजम खान के बोल – DM से साफ करवाएंगे मायावती के जूते

यह भी पढ़ें: PM मोदी का मिशन – आतंकवाद, भ्रष्टाचार, गरीबी हटाना

 

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)