Atal Bihari Vajpayee

अटलजी की अस्थियां विसर्जित करने के लिए परिजन पहुंचे हरिद्वार

हरिद्वार : रविवार को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां गंगा में प्रवाहित की जाएंगी। आज सुबह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहरी वाजपेयी की अस्थियों को दिल्‍ली के स्‍मृति स्‍थल से तीन कलश में भरा गया। इसके बाद परिजन अस्थी कलश को लेकर हरिद्वार के लिए निकले। सुबह करीब 10:40 बजे वायु सेना के विशेष विमान से भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की बेटी नमिता भट्टाचार्य अटल जी की अस्थियों को लेकर जॉली ग्रांट हवाई अड्डा पर उतरे।

पत्नी, बेटी समेत परिवार की दो अन्य महिलाएं भी कलश यात्रा में शामिल

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की अस्थि कलश लेकर आए विशेष विमान में 7 लोग थे सवार। पूर्व प्रधानमंत्री के दामाद रंजन भट्टाचार्य के हाथों में अस्थिकलश था। साथ में उनकी पत्नी नमिता भट्टाचार्य, बेटी निहारिका समेत परिवार की दो अन्य महिलाएं भी कलश यात्रा में शामिल थी। जॉलीग्रांट से दो अलग-अलग हेलीकॉप्टर से परिजन और भाजपा नेता हरिद्वार के लिए रवाना हुए।

Also Read :  अखिलेश के होटल निर्माण पर हाइकोर्ट ने लगाई रोक

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अफसरों के साथ बैठक कर तैयारियों को अंतिम रूप दिया। इस दौरान पूर्व प्रधानमंत्री की बेटी नमिता, नातिन निहारिका, भांजा व सांसद अनूप मिश्रा के साथ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत चार सौ विशिष्ट लोग उपस्थित रहेंगे। इसके मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। भाजपा वरिष्ठ नेतृत्व हेलिकॉप्टर से भल्ला कालेज हरिद्वार के मैदान में उतरेंगे और वहां से अस्थि कलश यात्रा हर की पौड़ी के लिए प्रस्थान करेगी। हरकी पैड़ी पर श्रद्धांजलि सभा के आयोजन के बाद विधि-विधान के साथ अस्थि विसर्जन किया जाएगा।

हरिद्वार के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) कृष्ण कुमार वीके ने बताया कि सुरक्षा के मद्देनजर प्रात: कालीन गंगा आरती के बाद हरकी पैड़ी को जीरो जोन में तब्दील कर दिया जाएगा। अस्थि विसर्जन कार्यक्रम के समापन के बाद ही आम जन को यहां आने की अनुमति होगी। हालांकि अन्य घाटों पर श्रद्धालु स्नान कर सकेंगे।

1000 सुरक्षा कर्मी संभालेंगे कमान

एसएसपी ने बताया कि सुरक्षा में पुलिस के करीब एक हजार जवानों को तैनात किया जा रहा है। शांतिकुंज से हरकी पैड़ी तक अस्थि कलश यात्रा के दौरान स्पेशल दस्तों की तैनाती की गई है। बहुमंजिला इमारतों से स्नाइपर चारों ओर नजर रखेंगे।

अस्थि कलश यात्रा के दौरान बंद रहेगा यातायात

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थि कलश यात्रा गुजरने के दौरान दिल्ली-देहरादून हाईवे पर यातायात बंद रहेगा। हालांकि यात्रा दूधाधारी चौक से हरकी पैड़ी की तरफ मुड़ने पर छोटे वाहनों की आवाजाही शुरू कर दी जाएगी। मगर भारी वाहन शाम तक बंद रहेंगे। वहीं हरकी पैड़ी पर अस्थि विसर्जन होने तक हरकी पैड़ी से खड़खड़ी जाने वाला मार्ग आमजन के लिए पूरी तरह बंद रहेगा। अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में तमाम बड़ी हस्तियां शामिल होंगी, इसलिए पुलिस ने एक दिन के लिए यातायात का विशेष प्लान लागू किया है। इसके तहत सुबह से ही हाईवे पर भारी वाहनों की आवाजाही पर रोक रहेगी।

(साभार- जागरण)

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)