एटा:कोरोना आइसोलेशन वार्ड बना बीयर बार,दो कर्मचारियों की जा सकती है नौकरी

डीएम, एसएसपी ने किया निरीक्षण, पाई खामियां

0 223

कोरोना महामारी को लेकर एटा डीएम और एसएसपी ने जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में कर्मचारियों के बीयर पीने का मामला सामने आने के बाद डीएम ने दोनों कर्मचारियों का मेडिकल कराया गया। सीएमएस को जांच के बाद सेवा समाप्ति के निर्देश दिए हैं।

मामला जनपद एटा के जिला अस्पताल का है

मामला जनपद एटा के जिला अस्पताल का है। जहां कोरोना महामारी को लेकर जिला अधिकारी सुखलाल भारती और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने रात्रि में औचक निरीक्षण किया। इस दौरान डीएम, एसएसपी ने अस्पताल के कोरोना इमरजेंसी आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया, जहां आइसोलेशन वार्ड में तैनात 2 कर्मचारियों ने अस्पताल के इमरजेंसी आइसोलेशन वार्ड को बीयर बार बनाया हुआ था और कर्मचारी बीयर पीते नजर आए। वहीं पूरे वार्ड में चारों तरफ बीयर की कैन बिखरी पड़ी थी। कोरोना आइसोलेशन वार्ड के इस नजारे को देखकर डीएम साहब का पारा चढ़ गया, आनन-फानन में जिला अधिकारी सुखलाल भारती ने वार्ड में तैनात दोनों कर्मचारियों को मेडिकल टेस्ट के लिए भिजवा दिया है। दोनों कर्मचारियों का डीएम के आदेश पर मेडिकल टेस्ट कराया जा रहा है।

बड़े मजे से बीयर पी रहे थे

बताया जा रहा है कि आइसोलेशन वार्ड में तैनात दोनों कर्मचारी नियमों को ताक पर रखकर बड़े मजे से बीयर उड़ा रहे थे, और दारू पार्टी कर रहे थे। वहीं मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएम ने तत्काल सीएमएस को मामले की जांच पड़ताल कर रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए हैं, साथ ही जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने जांच में दोषी पाए जाने पर दोनों कर्मचारियों की आजीवन सेवा समाप्त करने के सीएमएस को निर्देश दिए हैं।

देश में कोरोना महामारी को लेकर लोग जूझ रहे हैं

इस वक्त देश में कोरोना महामारी को लेकर लोग जूझ रहे हैं और सरकार शासन प्रशासन सभी लोग महामारी के विनाश के लिए जुटे हुए हैं, लेकिन चंद लोगों को कोरोना जैसी जानलेवा बीमारी से कोई लेना-देना नहीं है। वे सिर्फ अपनी मौज मस्ती में चूर हैं। वहीं मीडिया के सवालों का जवाब देते हुए जिलाधिकारी सुखलाल भारती ने कहा कि अनियमितताओं को लेकर 2 कर्मचारियों के खिलाफ सेवा समाप्ति की कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि जनपद में कोरोना आइसोलेशन वार्ड में कंट्रोल रूम बनाया जा रहा है, ताकि शासन द्वारा स्वास्थ्य कर्मचारियों की रद्द की गई ड्यूटी को लेकर कंट्रोल रूम से 8-8 घंटे की शिफ्ट लगाकर कोरोना जैसी महामारी से लड़ा जा सके। फिलहाल जनपद एटा में कोरोना से संक्रमित किसी मरीज की अब तक कोई पॉजिटिव रिपोर्ट नहीं आई है। ऐहतियात के तौर पर जिला प्रशासन द्वारा लगातार कोरोना से जुड़ी हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है, डीएम एसएसपी लगातार स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण कर स्थिति का जायजा ले रहे हैं।

यह भी पढ़ें : मान जाओ बात नहीं तो जेल में होगी मुलाकात

यह भी पढ़ें: कोरोना का खौफ : CM योगी ने अपने मंत्रियों को दिए खास निर्देश

(अन्य खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें। आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं।)

Comments

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More